Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

फतवा: भगवान जगन्नाथ का रथ खींच कर बोलीं नुसरत- जन्‍म से मुस्लिम थी और आज भी मुस्लिम हूं

फतवा: भगवान जगन्नाथ का रथ खींच कर बोलीं नुसरत- जन्‍म से मुस्लिम थी और आज भी मुस्लिम हूं

- Advertisement -

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल की बसीरहाट लोकसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस की सांसद नुसरत जहां (Nusrat Jahan) ने सीएम ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) के साथ भगवान का रथ खींचा। नुसरत जहां को यहां पर बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित किया गया था। बता दें कि सांसद और अभिनेत्री नुसरत जहां माथे पर सिंदूर, हाथों में चूड़ियां और साड़ी पहनकर संसद पहुंचने के बाद से ही लगातार कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं। उनके खिलाफ इसे लेकर फतवा (Fatwa) भी जारी किया जा चुका है। वहीं इस्‍कॉन मंदिर में श्री जगन्‍नाथ यात्रा में शामिल होने पहुंची नुसरत जहां ने एक बार फिर से स्‍पष्‍ट किया कि वह जन्‍म से मुस्लिम थीं और आज भी मुस्लिम (Muslims) हैं।

यह भी पढ़ें: – राहुल गांधी के बाद हरीश रावत ने कांग्रेस महासचिव पद से दिया इस्तीफा


‘सिंदूर लगा रही हैं और मंगलसूत्र पहन रही हैं, यह इस्‍लाम में हराम है’

इस रथ यात्रा में नुसरत के पति निखिल जैन भी शामिल हुए। नुसरत पैरेट ग्रीन कलर की साड़ी पहने नजर आईं। सिर पर पल्लू, मांग में सिंदूर, गले में मंगलसूत्र और हाथ में लाल चूड़ा पहने नुसरत बेहद खूबसूरत लग रही थीं। हिंदू बिजनसमैन निखिल जैन (Nikhil Jain) से शादी रचाने वाली नुसरत जहां ने अपने खिलाफ जारी कथित फतवे पर कहा, ‘जो चीजें आधारहीन होती हैं, मैं उन पर ध्‍यान नहीं देती हूं। मैं अपना धर्म जानती हूं। मैं जन्‍म से मुस्लिम हूं और आज भी मुस्लिम हूं। यह आस्‍था का मामला है। इसे आपको अपने अंदर से महसूस करना होता है न कि अपने दिमाग से।’ नुसरत जहां ने यात्रा से पहले पूजा की और नारियल भी फोड़ा। नुसरत के रथ खींचने पर वह एकबार फिर कट्टरपंथियों के निशाने पर आ गईं। मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा कि नुसरत असली मुस्लिम नहीं हैं। वह बिंदिया लगा रही हैं, सिंदूर लगा रही हैं और मंगलसूत्र पहन रही हैं, यह इस्‍लाम में हराम है।


 

 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है