×

चेतावनी : OBC की अनदेखी पड़ेगी BJP-Congress को महंगी

चेतावनी : OBC की अनदेखी पड़ेगी BJP-Congress को महंगी

- Advertisement -

घृत बाहती चाहंग महासभा ने विस चुनावों में टिकट को उठाई आवाज

OBC : धर्मशाला। ओबीसी वर्ग ने दो टूक कहा है कि अगर अबकी बार चुनावों में उनके लोगों को टिकट नहीं दी गई तो बीजेपी में न तो मोदी लहर चलेगी और न ही अमित शाह का जादू।ओबीसी अपने दम पर प्रदेश में सरकार बनाएगा और ओबीसी के वर्ग के उम्मीदवार आजाद ही मैदान में उतारेगा। धर्मशाला में पत्रकार वार्ता के दौरान घृत बाहती चाहंग महासभा के प्रदेशाध्यक्ष श्रीकंठ चौधरी ने यह बात कही। चौधरी ने कहा कि पूरे प्रदेश में अगर ओबीसी वर्ग को 18 सीटों पर दोनों पार्टियों द्वारा टिकट नहीं दी गई तो ओबीसी वर्ग खुलकर मैदान में आएगा और अपने प्रत्याशी मैदान में उतारेगा।


उन्होंने कहा कि प्रदेश में आबादी के हिसाब से ओबीसी वर्ग, राजपूत वर्ग के बाद सबसे बड़ा है और यह वर्ग सरकार बनाने और गिराने में अपनी अहम भूमिका अदा करता है। वहीं उन्होंने कहा कि पिछले कई अरसे से महासभा दोनों सरकारों के आगे अपनी मांगों को लेकर कई बार ज्ञापन सौंप चुकी है, लेकिन इनकी मांगों की ओर कोई गौर नहीं किया जा रहा।

प्रदेश में रिजर्वेशन इन एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन एक्ट लागू नहीं

ओबीसी नेताओं ने कहा कि सविंधान के 93वें संशोधन के तहत केंद्रीय शिक्षण संस्थानों में ओबीसी वर्ग को प्रवेश में 27  प्रतिशत आरक्षण दिया जा रहा है परंतु प्रदेश में रिजर्वेशन इन एजुकेशनल इंस्टीट्यूशन एक्ट लागू नहीं किया जा रहा। लिहाजा प्रदेश में ओबीसी के बच्चों को एमबीबीएस, बीएएमएस, वेटीनरी कॉलेज और प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों में प्रवेश के समय कोई आरक्षण नहीं दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि सरकार को चाहिए कि इस वर्ग को 27 प्रतिश्त आरक्षण दें। उन्होंने बताया कि प्रदेश में सरकारी सेवाओं में राजपत्रित और अराजपत्रित पदों के लिए 12 प्रतिशत व 18 प्रतिशत आरक्षण दिया जा रहा है जो न्याय संगत नहीं है। इसलिए सभी वर्गों के लिए 18 प्रतिशत आरक्षण दिया जाए। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त भी कई मांगे हैं, जिन्हें लेकर महासभा सरकार के पास गई लेकिन अभी तक इनकी मांगों की ओर गौर नहीं किया गया। श्रीकंठ ने कहा कि चाहे कांग्रेस हो या बीजेपी अगर इन दोनों को सरकार बनानी है तो ओबीसी वर्ग की मांगों को मानना होगा। उन्होंने कहा कि ओबीसी वर्ग इस समय पूरे प्रदेश में एकजुट है और सभी एक स्वर में अपने प्रत्याशी मैदान में उतारने की बात कह रहे हैं। इस दौरान उनके साथ डॉ रमेश कौंडल, बलदेव चौधरी, जितेंद्र धनोटिया सहित अन्य लोग मौजूद थे।

इंसाफ : बेटी से दुष्कर्म के आरोपी को मांगी फांसी

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है