×

वैज्ञानिकों का दावा, मिल गए Alien, पृथ्वी पर इस जगह है उनका अस्तित्व

वैज्ञानिकों का दावा, मिल गए Alien, पृथ्वी पर इस जगह है उनका अस्तित्व

- Advertisement -

अभी अभी डेस्क। पृथ्वी पर Aliens का अस्तित्वऔर UFO यानी Unidentified Flying Objects दिखाई देने को लेकर हमेशा से ही तरह-तरह के कयास लगाए जाते रहे हैं। इन्हीं कयासों के बीच Aliens के पृथ्वी पर होने को लेकर अब वैज्ञानिकों ने एक ऐसा दावा किया है जिसे सुन हर कोई हैरान है। दरअसल, वैज्ञानिकों ने एक विचित्र सिद्धांत पेश किया है, जिसमें कहा गया है कि समुद्र में पाए जाने Octopus Aliens हैं, जिसका भ्रूण आज से सैंकड़ों साल पहले एक धूमकेतू के जरिये पृथ्वी पर पहुंचा था। वे Aliens की तरह दिख सकते हैं, लेकिन असल में वे बाहरी अंतरिक्ष के Octopus व Cephalopods ( शीर्षपाद या सेफैलोपोडा अपृष्ठवंशी प्राणियों का एक सुसंगठित वर्ग जो केवल समुद्र ही में पाया जाता है) हैं। इस असाधारण विचार को हाल ही में 33 वैज्ञानिकों की एक अंतरराष्ट्रीय टीम ने आगे बढ़ाया था जिसका शोध Biophysics and Molecular Biology पत्रिका में प्रकाशित किया गया है।


झेलनी पड़ी दुनियाभर के वैज्ञानिकों की आलोचना

इन वैज्ञानिकों के शोध ने ऑक्टोपस और उन अन्य प्रजातियों की Genes पर ध्यान केंद्रित किया, जो हमारे ग्रह के अतीत में हुई विभिन्न सामूहिक विलुप्त होने वाली घटनाओं के बाद उत्पन्न हुईं। वैज्ञानिकों ने लिखा कि हमारा मानना है कि इस बात की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता कि नई Genes पृथ्वी पर किसी नए बाह्य-विद्युतीय आयात से आई हों। जीवन दूसरी दुनिया से क्षुद्रग्रहों या धूमकेतु पर अपने आप से यात्रा कर सकता है जिसे पैनस्पर्मिया कहा जाता है, ये कोई नया सिद्धांत नहीं है। हालांकि यह विशेष अध्ययन अजीब जरूर है। वैज्ञानिकों के इस समूह को दुनियाभर के वैज्ञानिक समुदाय से व्यापक आलोचना का सामना भी करना पड़ा। यह बात सुनने में थोड़ी अजीब लगती है कि और यह असाधारण रूप से असंभव है कि Octopus के अंडे धूमकेतु पर सवार होकर पृथ्वी पर पहुंचे थे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है