×

नवरात्र में नौ देवियों को लगाएंगे ये भोग तो दूर होंगे सारे रोग

नवरात्र में नौ देवियों को लगाएंगे ये भोग तो दूर होंगे सारे रोग

- Advertisement -

नवरात्र मां दुर्गा के नौ रूपों की उपासना के लिए बहुत खास माने जाते हैं। नवरात्र पर देवी पूजन और नौ दिन के व्रत का बहुत महत्व होता है। इन नौ दिनों में व्रत रखने वालों के लिए कुछ नियम होते हैं साथ ही इन नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ स्वरूपों को उनका पसंदीदा भोग चढ़ाकर मां का आशीर्वाद (Blessings) भी पाया जा सकता है। हम आपको बताने जा रहे हैं कि नवरात्र में नौ देवियों को क्या भोग लगाना चाहिए और उससे आपको क्या-क्या लाभ मिलेगा …



यह भी पढ़ें :- अंक ज्योतिष से चुनेंगे मोबाइल नंबर तो चमकेगी किस्मत, जानिए आसान तरीका


मां शैलपुत्री:
मां को सफेद चीजों का भोग लगाया जाता है और अगर यह गाय के घी में बनी हों तो व्यक्ति को रोगों से मुक्ति मिलती है और हर तरह की बीमारी (Diseases) दूर होती है।

मां ब्रह्मचारिणीः मां को मिश्री, चीनी और पंचामृत का भेग लगाया जाता है। इन्हीं चीजों का दान करने से लंबी आयु का सौभाग्य भी पाया जा सकता है।

मां चंद्रघंटाः मां चंद्रघंटा को दूध और उससे बनी चीजों का भोग लगाएं और और इसी का दान (Donation) भी करें। ऐसा करने से मां खुश होती हैं और सभी दुखों का नाश करती हैं।

मां कुष्मांडाः मां को मालपुए का भोग लगाएं। इसके बाद प्रसाद को किसी ब्राह्मण को दान कर दें और खुद भी खाएं। इससे बुद्धि का विकास होने के साथ-साथ निर्णय क्षमता भी अच्छी हो जाएगी।

मां स्कंदमाताः पंचमी तिथि के दिन पूजा करके भगवती दुर्गा को केले का भोग लगाना चाहिए और यह प्रसाद ब्राह्मण (Brahmin) को दे देना चाहिए. ऐसा करने से मनुष्य की बुद्धि का विकास होता है।


यह भी पढ़ें :- नवरात्र में देवी आराधना के लिए ये रही पूजा की सामग्री


मां कात्यायनीः
षष्ठी तिथि के दिन देवी के पूजन में मधु (Honey) का महत्व बताया गया है। इस दिन प्रसाद में मधु यानि शहद का प्रयोग करना चाहिए। इसके प्रभाव से साधक सुंदर रूप प्राप्त करता है।

मां कालरात्रिः सप्तमी तिथि के दिन भगवती की पूजा में गुड़ का नैवेद्य अर्पित करके ब्राह्मण को दे देना चाहिए. ऐसा करने से व्यक्ति शोकमुक्त होता है।

मां महागौरीः अष्टमी के दिन मां को नारियल का भोग लगाएं। नारियल (Coconut) को सिर से घुमाकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। मान्यता है कि ऐसा करने से आपकी मनोकामना पूर्ण होगी।

मां सिद्धिदात्रीः नवमी तिथि पर मां को विभिन्न प्रकार के अनाजों का भोग लगाएं जैसे- हलवा, चना-पूरी, खीर और पुए और फिर उसे गरीबों को दान करें। इससे जीवन में हर सुख-शांति मिलती है।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है