×

चुपचाप आए, MODI का पुतला जलाया और…..

चुपचाप आए, MODI का पुतला जलाया और…..

- Advertisement -

धर्मशाला। राजनीति में एक दूसरे का विरोध होता है. लेकिन अचानक से विरोध हो और पुतला भी जलाया जाए तो कुछ अटपटा लगना लाजिमी है। ऐसा ही कुछ नजारा रविवार को धर्मशाला के कचहरी चौक पर देखने को मिला। यहां डेढ़ दर्जन युवा कांग्रेस पदाधिकारी व कार्यकर्ता आए, चंद नारे लगाए और पीएम मोदी का पुतला जलाकर चले गए। पुतले को जलता छोड़ ही यह भविष्य के नेता जलपान के लिए निकल गए। इस तरह की कार्रवाई से हर कोई हैरान दिख रहा था तो सबसे ज्यादा परेशान पुलिस थी, जिसे इस बात की भनक तक नहीं थी कि शहर में ऐसी कोई गतिविधि हो रही है। कचहरी चौक पर तैनात ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने इस बारे में धर्मशाला पुलिस थाना में सूचना भी दी। लेकिन, जब पुलिस मौके पर पहुंची तब  वहां सिर्फ जलता हुआ पुतला था, बाकी कोई नहीं। इससे पहले कांग्रेस के इन सिपाहियों ने एक रोष रैली भी निकाली और केंद्र सरकार और पीएम मोदी के खिलाफ नारेबाजी की।


  • कचहरी चौक पर आनन-फानन में युकां ने जलाया पीएम मोदी का पुतला
  • पुलिस प्रशासन तक को भी नहीं थी भनक,  ट्रैफिक कर्मी ने दी जानकारी
  • महंगाई के विरोध में सड़क पर उतरे डेढ़ दर्जन युवा कांग्रेस कार्यकर्ता

इस विरोध प्रदर्शन में शामिल कुछ युवा नेताओं को भी यह पता नहीं था कि आखिर यह सब किया क्यों गया है। उनका कहना था कि बस उन्हें तो बुलाया गया था और वह भी हाजिर हो गए। इस बात की भी अटकलें लगाई जा रही हैं कि युवा कांग्रेस पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने यह कार्यक्रम इसलिए गुप्त रखा कि कहीं पुलिस उनसे मोदी का पुतला न छीन ले। सनद रहे कि कुछ दिन पहले भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पीएम मोदी का पुतला जलाने का प्रयास किया था, जिसे पुलिस ने विफल कर दिया था। शायद यही वजह रही होगी कि युकां ने भी सबकुछ अचानक ही कर लिया। खैर इसके पीछे वजह जो भी रही हो वह तो शायद ही कभी सामने आए, लेकिन यह शहर में चर्चा का विषय जरूर बन गया।

वहीं इस बारे में युवा कांग्रेस के प्रदेश महासचिव यदुपति ठाकुर का कहना है कि युकां का यह कार्यक्रम पूर्व नियोजित था और इसका उद्देश्य केंद्र सरकार द्वारा रसोई गैस एवं अन्य पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्य में की गई वृद्धि का विरोध करना था। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने देश के लोगों के साथ धोखा किया है, इसलिए विभिन्न स्थानों पर केंद्र की बीजेपी सरकार का विरोध जारी रहेगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है