×

ये हैं हैदराबाद की एक मात्र महिला Chauffeur से

ये हैं हैदराबाद की एक मात्र महिला Chauffeur से

- Advertisement -

समाज में कुछ क्षेत्र मानो पुरुषों के लिए ही तय से कर दिए गए हैं। इसके बावजूद महिलाओं ने पुरुषों के क्षेत्र में दखल दिया है और वे अच्छा काम कर रही हैं। सरकारी हो या निजी वे अच्छे पदों पर काम कर रही है और पूरी जिम्मेदारी से अपने काम को संभाल रही हैं। हम आप को मिलवाते हैं निजामाबाद की लावण्या पोथुर से। जो हैदराबाद में एक मात्र महिला शोफर (Chauffeur) है। दो बच्चों की मां लावण्या ने 2015 में ड्राइविंग सीखी। उनके पिता रेलवे में कर्मचारी थे। उनके पति रवींद्र एक किसान परिवार से थे और ओमान में काम कर रहे थे। विवाह के कुछ दिनों बाद उन्होंने कार खरीदी उनके पति ने कहा कि ड्राइवर रखने से बेहतर होगा कि लावण्या खुद ड्राइविंग सीख लें। कुछ साल बाद लावण्या ने दोस्त के साथ मिलकर ड्राइविंग स्कूल खोला, पर यह चला नहीं और दो साल बाद उसे बंद कर देना पड़ा। लावण्या फिलहाल सोच नहीं पा रही थीं कि अपनी ड्राइविंग स्किल का प्रोफेशनल उपयोग वे कैसे कर सकती थीं। उनके पति ने फिर उन्हें गाइड किया कि वे बतौर शोफ़र ओला कैब ज्वाइन कर लें। लावण्या ने इसे ज्वाइन किया और कुछ ही दिनों में वे कुशल ओला ड्राइवर हो गईं। अब वे आर्थिक तौर पर मजबूत हैं और अपने परिवार की भी अच्छी देखभाल कर सकती हैं।


Ola female chauffeurजाहिर है कि यह बात कहने-सुनने में जितनी आसान लगती है उतनी है नहीं। लावण्या के सामने गंभीर चुनौतियां थीं। कुछ ओला पैसेंजर ऐसे भी मिले, जिन्होंने उनसे बदतमीजी करने की कोशिश की और लावण्या को उन्हें पुलिस की धमकी देकर हैंडल करना पड़ा। पर ऐसे लोग कम ही थे बाकी लोगों ने उनके काम को संजीदगी से ही देखा तथा उन्हें उत्साहित भी किया। अब तो वे भी समझ चुकी हैं कि ओवरस्मार्ट लोगों से कैसे पेश आना चाहिए। उनकी परेशानियों में उनके सर्विस प्रोवाइडर ने भी पूरा साथ दिया। लावण्या अपने कार्य में नियमित हैं, इसलिए परिवार के साथ बिताने को उन्हें अच्छा समय मिल जाता है। लावण्या का कहना है कि मैं अपनी बेटियों के अच्छे भविष्य के लिए जो भी कर सकती थी, कर रही हूं। मैं जानती थी कि यह पुरुषों की फील्ड है, पर यह भी जानती थी कि मैं अपना काम बखूबी कर लूंगी। मैं चाहती हूं कि इसमें और महिलाएं आएं। मुझे मेरे परिवार ने सहयोग किया औरों को भी ऐसा करना चाहिए।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है