Covid-19 Update

1,98,901
मामले (हिमाचल)
1,91,709
मरीज ठीक हुए
3,391
मौत
29,570,881
मामले (भारत)
177,058,825
मामले (दुनिया)
×

शिंदे के सामने Virbhadra व स्टोक्स पर उठी अंगुलियां, हारे प्रत्याशियों ने सौंपी ऑडियो रिकॉर्डिंग

शिंदे के सामने Virbhadra व स्टोक्स पर उठी अंगुलियां, हारे प्रत्याशियों ने सौंपी ऑडियो रिकॉर्डिंग

- Advertisement -

लोकिन्दर बेक्टा, शिमला। विधानसभा चुनाव के परिणाम के बाद अब कांग्रेस हार का पोस्टमार्टम करने में लगी है। हार का कारण जानने को पार्टी के प्रदेश प्रभारी सुशील कुमार शिंदे और सह प्रभारी रंजीत रंजन शिमला पहुंचे और यहां अपने काम में जुट गए। इस दौरान चुनाव में हारे उम्मीदवारों ने अपना दुखड़ा रोया और अपनी हार के लिए दूसरों के सिर पर ठीकरा फोड़ा, वहीं जीतने वालों ने अपनी काबिलियत बताई।
कौल ने भी निर्दलीय चुनाव में उतरे पूर्ण ठाकुर को ठहराया जिम्मेवार
बताते हैं कि हार के लिए कुछ उम्मीदवारों ने पार्टी के शीर्ष नेताओं तक को कठघरे में खड़ा किया है। इनमें ठियोग से कांग्रेस उम्मीदवार दीपक राठौर ने वीरभद्र सिंह और पूर्व मंत्री विद्या स्टोक्स तक को कठघरे में खड़ा किया। उन्होंने ऑडियो रिकार्डिंग भी सौंपी। वहीं, सरकाघाट से हारे पार्टी उम्मीदवार ने भी पूर्व मंत्री रंगीलाराम राव को जिम्मेदार ठहराया और इस संबंध में रिकार्डिंग शिंदे को सौंपी। इसके अलावा कुछ ने मौखिक रूप में पार्टी के दूसरे लोगों पर सवाल उठाए। बताते हैं कि पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर ने भी निर्दलीय चुनाव में उतरे पूर्ण ठाकुर को अपनी हार के लिए जिम्मेदार बताया। साथ ही कहा कि उन्हें किसने खड़ा किया, यह सब जानते हैं।
ईवीएम गडबड़ी का भी उठा मुद्दा
बताते हैं कि इस दौरान ईवीएम का मुद्दा भी उठा। कुछ हारे हुए सदस्यों ने कहा कि जिस तरह से वोट मिले हैं, उसका आकलन करने से स्पष्ट होता है कि कहीं न कहीं ईवीएम में गड़बड़ है। उन्होंने पार्टी नेताओं से इस मामले पर दिल्ली में उठाने की भी बात कही और इसे चुनौती देने को कहा। इस बीच, कुछ ने ब्लाक कमेटियों पर काम न करने का आरोप लगाया और कहा कि वे निष्क्रिय रही और कार्यकर्ताओं को सक्रिय नहीं किया गया।

 


बताते हैं कि जिलाध्यक्षों ने भी अपनी-अपनी रिपोर्ट शिंदे को दी और हर हलके के कारणों को बताया। वहीं, विधानसभा चुनाव में उतरे उम्मीदवारों ने एक-एक करके शिंदे और रंजीत रंजन को अपनी हार के लिए दूसरों के सिर पर ठीकरा फोड़ा। शिंदे ने भी डायरी में सबकी बातों को नोट किया। उधर, चुनाव जीतने वालों ने अपनी काबलियत और विधानसभा हलके में लगातार एक्टिव रहने के साथ-साथ सीएम वीरभद्र सिंह सरकार द्वारा किए गए कार्यों को श्रेय दिया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है