×

Dhumal को सलाहः अनाप-शनाप नहीं, Himachal के विकास में करें योगदान

Dhumal को सलाहः अनाप-शनाप नहीं, Himachal के विकास में करें योगदान

- Advertisement -

शिमला। वीरभद्र समर्थकों की नजर में सिंह हमेशा ही कर्मचारी हितैषी रहे हैं। सर्वविदित है कि अधिकारियों व कर्मचारियों को डराने-धमकाने तथा क्षेत्रवाद की राजनीति करने की प्रथा बीजेपी नेताओं की रही है। कांग्रेस सरकार ने प्रदेश में प्रत्येक क्षेत्र का समान व संतुलित विकास सुनिश्चित बनाया है और प्रत्येक व्यक्ति किसी न किसी रूप में विकास व कल्याणकारी नीतियों से लाभान्वित हुआ है। यह बात राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष  गंगू राम मुसाफिर, 20 सूत्रीय कार्यक्रम कार्यान्वय समिति के अध्यक्ष राम लाल ठाकुर तथा प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया ने कही है।  कांग्रेस नेताओं ने कहा कि बीजेपी नेताओं विशेषकर नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल को अनाप-शनाप बयानबाजी के वजाए प्रदेश के विकास में योगदान करना चाहिए।


  • वीरभद्र समर्थकों ने कहा,भोली.भाली जनता को धर्म व क्षेत्र के नाम पर ना ठगे
  • बीजेपी को जनता दिखाएगी बाहर का रास्ता,वीरभद्र सिंह खेलेंगे सातवीं पारी

उन्होंने सलाह दी कि महज राजनीतिक लाभ के उद्देश्य से राज्य की भोली-भाली जनता को धर्म व क्षेत्र के नाम पर विभाजित करने की नाकाम कोशिश से बचना चाहिए क्योंकि अब राज्य के लोग समझ चुके हैं, कि उनके सच्चे हितैषी कौन है और निश्चित रूप से आगामी चुनाव में बीजेपी को पिछली बार की तरह पुनः बाहर का रास्ता दिखाएंगे और वीरभद्र सिंह को सातवीं बार सीएम बनाएंगे। इन नेताओं ने कहा कि यह देखकर आश्चर्य होता है कि बीजेपी नेताओं विशेषकर नेता प्रतिपक्ष को यह सब दिखाई नहीं दे रहा है और चुनाव समीप आते देख विकास कार्यकलापों से लोगों का ध्यान बांटने के लिए आए दिन बेबुनियाद एवं आधारहीन बयानबाजी कर रहे हैं। मुसाफिर, ठाकुर तथा पठानिया ने कहा कि राज्य में अवैध कटान पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने वाले वीरभद्र सिंह ही थे, जब वह पहली बार सीएम  बने थे। इसी का परिणाम है कि आज हिमाचल प्रदेश पर्यावरण में सर्वाधिक योगदान करने वाला देश का पहला राज्य बन पाया है। हरित आवरण बढ़ाने के प्रयासों के अंतर्गत प्रदेश में विभिन्न योजनाओं के तहत गत चार वर्षों के दौरान लगभग 48,000 हेक्टेयर क्षेत्र में 5.50 करोड़ से अधिक पौधारोपण किया गया है। 1.35 करोड़ औषधीय पौधे भी रोपे गए हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी के कार्यकाल में वनीकरण महज दिखावा बन कर रह गया था और रोड साइड पौधरोपण कार्यक्रम पूरी तरह असफल रहा। सड़क किनारे एक भी पेड़ जीवित नहीं रह पाया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है