Covid-19 Update

2,05,499
मामले (हिमाचल)
2,01,026
मरीज ठीक हुए
3,504
मौत
31,571,295
मामले (भारत)
197,365,402
मामले (दुनिया)
×

ब्रेकिंगः शीतकालीन सत्र के आखिरी दिन काली पट्टी बांध कर सदन में आएगा विपक्ष

ब्रेकिंगः शीतकालीन सत्र के आखिरी दिन काली पट्टी बांध कर सदन में आएगा विपक्ष

- Advertisement -

रविंद्र चौधरी/धर्मशाला। तपोवन में विधानसभा के शीतकालीन सत्र में सरकार द्वारा लाए हिमाचल प्रदेश सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (स्थापना और प्रचालन का सरलीकरण) विधेयक, 2019 का विपक्ष ने विरोध किया है। आज विपक्ष ने विरोध जताते हुए सदन से वाकआउट (Walkout) किया तो कल शीतकालीन सत्र के आखिरी दिन विपक्ष काली पट्टी बांधकर सदन में आएगा। यह जानकारी देते हुए नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री (Leader of Opposition Mukesh Agnihotri) ने कहा कि जयराम सरकार बाहरी राज्यों के पूजीपंतियों को प्रदेश में खुली लूट का रास्ता खोलने की इजाजत दे रही है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस Link पर Click करें

हमने पहले ही सरकार को आगाह किया था कि ऐसा कोई कानून न बनाया जाए जिसका प्रभाव स्थाई रूप से रहे। अब सरकार उक्त विधेयक लेकर आई है। पूजीपंतियों को तीन साल के लिए बिना किसी एनओसी के प्रदेश में काम करने की इजाजत देने का प्रावधान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक राज्य में दो कानून कैसे हो सकते हैं।


एक तरफ तो हिमाचलियों को छोटा सा काम करने के लिए एनओसी लेने पड़ती है, वहीं बाहरी राज्यों के उद्योगपतियों को इसमें छूट दी जा रही है। मुकेश अग्निहोत्री ने आरोप लगाते हुए कहा कि सीएम जयराम ठाकुर गैर हिमाचली अफसरों से घिरे हुए हैं। ऐसे अफसर ही इस तरह के कानून सरकार से पारित करवा रहे हैं। कांग्रेस इस फैसले की पक्षधर नहीं है। हमने विरोध दर्ज करवाया है। कल इसी के विरोध में काली पट्टी बांधकर सदन में आने का निर्णय लिया है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है