×

पेन किलर लेते हैं तो हो जाएं सावधान, मौत का खतरा

पेन किलर लेते हैं तो हो जाएं सावधान, मौत का खतरा

- Advertisement -

नई दिल्ली। कहीं भी दर्द उठने पर बिना सोच समझे अगर आप पेन किलर खा रहे हैं तो सावधान हो जाएं। ये पेन किलर आप के स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकते हैं। दर्द निवारक दवाओं का अंधाधुंध सेवन हार्ट अटैक और स्ट्रोक से मौत का खतरा 50 फीसदी तक बढ़ा देता है। डेनमार्क स्थित आरहुस विवि अस्पताल के शोधकर्ताओं ने 63 लाख लोगों पर पैरासिटामॉल, आइबुब्रूफेन और डाइक्लोफेनैक सहित दूसरी पेन किलर के दुष्प्रभाव को आंका।


उन्होंने पाया कि स्टेरॉयड रहित ये सभी दवाएं शरीर से पानी और सोडियम निकालने की किडनी की रफ्तार धीमी कर देती हैं। इससे रक्त प्रवाह तेज हो जाता है। साथ ही अंगों को खून पहुंचाने में ज्यादा दबाव पड़ने के कारण धमनियों के फंटने और व्यक्ति के हार्ट अटैक व स्ट्रोक का शिकार होने का खतरा रहता है।

अध्ययन में सामने आया कि पेन किलर ब्लड प्रेशर घटाने में इस्तेमाल होने वाली दवाओं को बेअसर बनाती हैं। ये दवाएम दिल की धड़कन को अनियंत्रित करती हैं। इससे व्यक्ति को बेचैनी, घबराहट, सीने में दर्द और पसीना आने की शिकायत हो सकती है।

  • अगर आप दर्द से जूझ रहे हैं तो घर में पड़ी चीजों को इस्तेमाल करें और राहत पाएं….
  • हल्दी फ्री-रैडिकल्स को नष्ट करने वाले ‘करक्युमिन’ की मौजूदगी दर्द का एहसास घटाने में कारगर है।
  • लौंग ‘इयुगेनॉल’ नाम के प्राकृतिक दर्द निवारक यौगिक से लैस है। दांत के दर्द में यह सबसे ज्यादा असरदार है।
  • अदरक में दर्द का सिग्नल दिमाग तक पहुंचाने वाले दो एंजाइम की क्रिया बाधित करने वाले यौगिक पाए जाते हैं।
  • बादाम ओमेगा-3 फैटी एसिड मांसपेंशियों में दर्द, सूजन, खिंचाव का सबब बनने वाले रसायनों को निष्क्रिय करता है।
  • बर्फ/गर्म पानी की सिंकाई नसों में खून का प्रवाह सुचारु बनाकर जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द कम करती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है