×

26/11 हमलों पर नवाज शरीफ का इंटरव्यू छापने वाले समाचार पत्र Dawn पर पाक में रोक

26/11 हमलों पर नवाज शरीफ का इंटरव्यू छापने वाले समाचार पत्र Dawn पर पाक में रोक

- Advertisement -

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ द्वारा प्रतिष्ठित समाचार पत्र द डॉन को दिए इंटरव्यू में 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमलों में पाकिस्तान का हाथ होने वाली बात कहने के बाद पाकिस्तान सरकार ने देश के कई हिस्सों में सबसे पुराने समाचार पत्र डॉन की पहुंच पर रोक लगा दी है। जानकारी के अनुसार RSF संस्था ने इस रोक की निंदा करते हुए इस रोक को मीडिया की स्वतंत्रता पर हमला करार दिया है। RSF के मुताबिक, बलूचिस्तान प्रांत, सिंध के कई शहरों और आर्मी छावनियों में द डॉन का वितरण सबसे ज्यादा प्रभावित किया गया है। RSF के मुताबिक जिस अनुचित तरीके से पाकिस्तानी आर्मी देश के सबसे स्वतंत्र समाचार पत्र के वितरण को रोक रही है, उससे यह साफ स्पष्ट होता है कि वह खबरों पर नियंत्रण रखना चाहती है औरआर्मी के अफसर नहीं चाहते कि आम चुनाव से पहले इस तरह से कोई लोकतांत्रिक बहस हो।


PCP ने द डॉन के संपादक को की थी अधिसूचना जारी

RSF का कहना है कि उन्होंने उच्च अफसरों से स्वतंत्र मीडिया के प्रसार में हस्तक्षेप रोकने और पूरे पाकिस्तान में द डॉन समाचार पत्र के वितरण को बहाल करने के लिए कहा है। बता दें कि, शरीफ द्वारा मुंबई हमलों में पाकिस्तान का हाथ होने की बात कबूलने के बाद पाक नेशनल सिक्युरिटी कमेटी ( NSC ) ने हाईलेवल मीटिंग बुलाई कर इस बयान की निंदा की थी। जिसके बाद पाक की प्रेस काउंसिल (PCP) ने द डॉन समाचार पत्र के संपादक को अधिसूचना जारी कर कहा था, कि समाचार पत्र ने इस तरह की साम्रगी प्रकाशित करके नैतिक संहिता का उल्लंघन किया। यह पाकिस्तान और उसके नागरिकों की अवमानना कर सकता है। यह साम्रगी एक स्वतंत्र देश के रूप में उसकी संप्रभुता या अखंडता को कमजोर कर सकती है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है