Covid-19 Update

59,065
मामले (हिमाचल)
57,507
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,210,799
मामले (भारत)
117,078,869
मामले (दुनिया)

हवाई हमले के बाद घबराया पाकिस्तान, जैश सरगना मसूद अजहर को छिपाया

हवाई हमले के बाद घबराया पाकिस्तान, जैश सरगना मसूद अजहर को छिपाया

- Advertisement -

दिल्ली। POK के मुजफ्फराबाद के बालाकोट (Balakot) में आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के आतंकी ठिकानों पर भारत के हवाई हमले के बाद पाकिस्तान (Pakistan) घबरा गया है। उसने जैश के सरगना मसूद अजहर (Masood Azhar) को रावलपिंडी (Rawalpindi) से बहावलपुर के नजदीक कोटघानी में छिपा दिया है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई खुद उसकी सुरक्षा कर रही है।

भारतीय वायुसेना के 12 मिराज 2000 विमानों ने मंगलवार तड़के POK के भीतर घुसकर जैश (Jaish e mohammad) के आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया था। बताया जा रहा है कि इस हवाई हमले में जैश के 300 आतंकी ढेर हो गए हैं। भारत की यह जवाबी कार्रवाई पुलवामा में हुए आतंकी हमले के जवाब में की गई है। जैश ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। पुलवामा हमले (Pulwama Attack) के समय मसूद अजहर रावलपिंडी में सेना के अस्पताल में भर्ती था। उसे 17-18 फरवरी को कोटघानी भेजा गया।

यह भी पढ़ें: ब्रेकिंग: पाकिस्तान के जासूसी ड्रोन को भारत ने कच्छ में मार गिराया

 

हिजबुल सरगना सलाहुद्दीन से भी मिला अजहर

सूत्रों के अनुसार, अजहर ने हिजबुल (Hizbul Mujaheedin) के सरगना सैयद सलाउद्दीन से भी मुलाकात की है। खुफिया सूत्रों का मानना है कि दोनों आतंकी सरगनाओं के बीच हुई इस मीटिंग में एक-दूसरे को मदद देकर फिर से मजबूत होने की साजिश पर बात हुई होगी।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान पर भारतीय वायुसेना के हवाई हमले में जैश के 300 आतंकी ढेर

 

जैश का संस्थापक है अजहर

अजहर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का संस्थापक है। 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले की जैश ने ही जिम्मेदारी ली है। इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद से ही भारत में पाकिस्तान से बदला लेने की मांग उठ रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी साफ कह चुके हैं कि आतंक के सरपरस्तों से पूरा हिसाब किया जाएगा। यहां तक कि उन्होंने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को अपने किए गए वादे पर खरा उतरने की नसीहत दी है।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है