Covid-19 Update

56,802
मामले (हिमाचल)
55,071
मरीज ठीक हुए
951
मौत
10,541,760
मामले (भारत)
93,843,671
मामले (दुनिया)

J&K: पुंछ में नियंत्रण रेखा के पास दिखा #Pakistani लड़ाकू विमान, सुरक्षाबल Alert

J&K: पुंछ में नियंत्रण रेखा के पास दिखा #Pakistani लड़ाकू विमान, सुरक्षाबल Alert

- Advertisement -

श्रीनगर। पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ( #Pakistan)अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। भारतीय सीमांत क्षेत्रों में पाकिस्तानी ड्रोन( Pakistani drone) देखे जाने की घटना के बाद आज पुंछ नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी जेट ( Pakistani jet)देखा गया। नियंत्रण रेखा के पास जेट दिखने के बाद सेना ने सुरक्षाबल को अलर्ट ( Alert)कर दिया है। सेना यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि वास्तव में यह किस तरह का जेट था। बताया जा रहा है कि सोमवार तड़के सीमा पर तैनात जवानों ने जेट की आवाज के साथ आसमान में धुंए की एक श्रृंखला देखी। नियंत्रण रेखा के पास से गुजरा यह जेट पाकिस्तानी दिख रहा था। इससे पहले की सेना इस कार्रवाई के खिलाफ कोई कदम उठाती जेट हवा में ओझल हो गया। अब सेना यह पता लगाने का प्रयास कर रहा है कि पाकिस्तान जेट की यह उड़ान प्रशिक्षण के लिए थी या फिर सीमा पर सुरक्षा व्यवस्था( Security system) को जांचने के लिए इस पर कोई जासूसी उपक्रण भी लगे हुए थे। हालांकि इस कार्रवाई के बाद सीमा पर तैनात जवानों व नियंत्रण रेखा से सटे गांवों में रहने वाले लोगों को अलर्ट कर दिया गया है।

ये भी पढ़ेः #JammuKashmir : अंतरराष्ट्रीय सीमा पर फिर दिखा पाकिस्तानी #Drone, सेना की चेतावनी के बाद लौटा

करीब सप्ताह भर पहले बीते रविवार को भी सीमा पर संदिग्ध चीज उड़ती दिखाई दी थी। बाद में सुरक्षाबलों की सतर्कता से वह वापस लौट गई थी। हालांकि इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी कि वह ड्रोन था या कुछ और वस्तु थी। गत 20 जून को बीएसएफ के जवानों ( BSF Jawans)ने हीरानगर सेक्टर में पाकिस्तानी से हथियार लेकर आ रहे एक पाकिस्तानी ड्रोन को मार गिराया था जो भारतीय सीमा में टोह ले रहा था।पाकिस्तान सीमा पार से आतंकवादियों की घुसपैठ करवाने की साजिश रच रहा है लेकिन हर बार भारतीय सेना के सतर्क जवान पाकिस्तान की इस नापाक हरकत को विफल करते आ रहे हैं। पाकिस्तान पहले से ही जम्मू-कश्मीर की भौगोलिक परिस्थितियों का फायदा उठाने की फिराक में रहा है। पाकिस्तान की नजर जम्मू-कश्मीर नेशनल हाईवे से नजदीकी और हाईवे तक चोरी छिपे पहुंचने में मदद करने वाले दरियाई नालों पर रहती है। पूर्व में हुई घुसपैठ की वारदातें हों या फिर सुरंग खोदने और ड्रोन से हथियारों की तस्करी, ये कोशिशें उन्हीं इलाकों में ज्यादा हो रही हैं जो घुसपैठ के रूट वाले दरियाई नालों और जंगल क्षेत्र के आसपास पड़ते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है