Expand

पाकिस्तानी ‘सना’ को भी चाहिए शांति

पाकिस्तानी ‘सना’ को भी चाहिए शांति

- Advertisement -

शिमला। भारत-पाकिस्तान के रिश्तों में कड़वाहट को दोनों देशों का आवाम भलीभांति जानता है। उड़ी हमले के बाद भारत के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद तो सीमा पर तनाव और बढ़ गया है। इसी को लेकर पाकिस्तान से 11वें ग्लोबल पीस फेस्टिवल में भाग लेने आईं सना से हिमाचल अभी अभी ने बातचीत की। उनसे दोनों देशों के रिश्तों में आई खटास के बारे में पूछा गया। सना ने कहा कि राजनीतिक हालात पर तो वे कोई कमेंट नहीं करेंगी। लेकिन वर्तमान में जो मतभेद दोनों देशों के बीच हैं, उन्हें कोई नहीं चाहता। भारत, पाकिस्तान, अमेरिका, बंगलादेश सभी शांति चाहते हैं। वह यहां शांति के लिए आई हैं और शांति की ही बात करेंगी। उनके लिए, हर किसी के लिए और विश्व में रहने वाले  हर व्यक्ति के लिए शांति जरूरी है। वे ऐसा कुछ नहीं कहना चाहतीं, जिससे विवाद खड़ा हो।

  • shimla-3भारत-पाकिस्तान के रिश्तों पर बोली, नो कमेंट
  • बांग्लादेश की तमन्ना के अनुसार, रिश्तों को मजबूत होने से नहीं रोक सकता आतंक

बांग्लादेश की तमन्ना तब्बसुम के अनुसार उनका देश भी आतंकवाद से पीड़ित है। युवा वर्ग को आगे आकर चर्चा के बाद सहमति से फैसला लेकर आतंकवाद के खिलाफ आवाज बुलंद करनी चाहिए। सीमा पर गोलीबारी और आतंकवाद दोनों देशों के रिश्तों को मजबूत होने से नहीं रोक सकते। युवाओं को आतंकवाद और वर्तमान की अन्य समस्याओं के खिलाफ एकजुट होने की जरूरत है। युवा विश्व में शान्ति ला सकते हैं।

sanaचाय की चुस्कियों के साथ रिश्तों में गर्माहट

भारत-पाकिस्तान और अन्य देशों के आतंकवाद व दूसरे विवादों के कारण आपस में रिश्ते जैसे भी हों, मगर इनके बाशिंदे जब भी किसी मंच पर आपस में मिलते हैं, गर्मजोशी के साथ मुलाक़ात करते हैं। शुक्रवार को सीएम वीरभद्र सिंह के सरकारी आवास में भी ऐसा ही देखने को मिला। पाकिस्तान की युवतियों ने शांति मार्च में भाग लेने से पहले अन्य देशों के युवाओं के साथ घुलमिल कर बातचीत की और बिस्किट के साथ चाय की चुस्कियां भी लीं। पीस दल में शामिल अधिकांश देशों के युवाओं ने अपने-अपने देश का राष्ट्रीय ध्वज पकड़ा हुआ था, जबकि पाकिस्तानी युवतियों ने इससे परहेज ही किया। रिज की ओर मार्च के दौरान एक युवती ने तो बांग्लादेश का ध्वज पकड़ा हुआ था।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है