Covid-19 Update

2,06,589
मामले (हिमाचल)
2,01,628
मरीज ठीक हुए
3,507
मौत
31,767,481
मामले (भारत)
199,936,878
मामले (दुनिया)
×

अनियमितताओं के चलते पंचायत सहायक Terminate

अनियमितताओं के चलते पंचायत सहायक Terminate

- Advertisement -

Panchayat Assistant Terminate : शिमला। अनियमितताओं के चलते एक पंचायत सहायक की सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं। पंचायत सहायक को पद से टर्मिनेट कर दिया गया है। अतिरिक्त उपायुक्त शिमला राकेश कुमार प्रजापति ने आज यहां बताया कि पंचायत सहायक कपिल देव को ग्राम पंचायत कलैंडा-मझेवटी व बगलती में सरकारी कार्य के दौरान (जब वह इन पंचायतों में कार्यरत था) सरकारी धन राशि का दुरुपयोग करने और  एक वर्ष तक ड्यूटी से नदारद रहने के कारण उनकी सेवाएं पंचायत सहायक पद से टर्मिनेट (समाप्त) कर दी गई हैं।

एक पंचायत सचिव व ग्राम पंचायत जाखा के प्रधान को कारण बताओ नोटिस जारी

उन्होंने बताया कि कपिल देव द्वारा वर्ष 2015-16 व 2016-17 में लगभग 2 लाख 34 हजार रुपये सरकारी राशि को अपने स्तर पर बैंक खाते से निकालकर निजी प्रयोग में लाया गया। यह बात कर्मचारी द्वारा कबूल की गई है।  उन्होंने इस राशि का प्रयोग अपने निजी कार्य के लिए किया। इसके साथ-साथ उन्होंने पिछले एक वर्ष से कैश बुक के साथ अन्य कोई भी रिकॉर्ड संधारण नहीं किया है। इसी कारण से उनकी सेवाएं समाप्त कर दी गई हैं। राकेश कुमार प्रजापति ने बताया कि उपायुक्त शिमला द्वारा कड़ा संज्ञान लेते हुए ग्राम पंचायत जाखा के पंचायत सचिव सोहन लाल व ग्राम पंचायत जाखा, उप मंडल डोडरा-क्वार के प्रधान उमेश द्वारा राशि की अनियमितताएं करने पर उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। यदि कर्मचारी और पदाधिकारी अपना कोई ठोस प्रमाण प्रस्तुत नहीं करते हैं तो सचिव व प्रधान ग्राम पंचायत जाखा के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। इस बारे में उनके जवाब का इंतजार किया जा रहा है, तत्पश्चात आगामी कार्रवाई की जाएगी।


करीब 15 मामले विचाराधीन, शीघ्र निपटाने के आदेश

अतिरिक्त उपायुक्त शिमला राकेश कुमार प्रजापति ने  बताया कि इस समय लगभग 15 मामले पंचायत सचिव, सहायकों व कुछ मामले ग्राम पंचायत प्रधानों के विचाराधीन है, जिन्हें शीघ्र निपटाने के लिए संबंधित उपमंडल अधिकारियों व संबंधित जिला अधिकारियों को आदेश जारी किए गए हैं। जिला प्रशासन द्वारा जिला में समस्त ग्राम पंचायतों में विकास को और अधिक गति देने के प्रयास से उपरोक्त कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि यदि आम जनता को ग्राम पंचायत के पदाधिकारियों और कर्मचारियों के कारण विकास कार्यों में असुविधा हो रही है तो वह पंचायतघर के बाहर सूचनापट पर लिखे गए उपायुक्त व अतिरिक्त उपायुक्त तथा जिला पंचायत अधिकारी के मोबाइल नंबर पर शिकायत कर सकते हैं, ताकि जनता की समस्याओं का शीघ्र समाधान किया जा सके।

ये भी पढ़ें  : आदेशों की अनुपालना न करने पर राज्यपाल के सचिव को Notice

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है