Expand

तकनीकी सहायक गरजे, समर्थन में प्रधान भी उतरे

तकनीकी सहायक गरजे, समर्थन में प्रधान भी उतरे

- Advertisement -

शिमला। पिछले 38 दिन से हड़ताल पर चल रहे पंचायत तकनीकी सहायकों के सब्र का बांध आज टूट गया और लगभग  1100 पंचायत तकनीकी सहायकों के साथ उनके समर्थन में उतरे पंचायत प्रधानों, उपप्रधानों व जिला परिषद के सदस्यों ने अपनी मांगों को लेकर प्रदेश सचिवालय  के बाहर जोरदार प्रदर्शन किया । पंचायत तकनीकी सहायक संघ के अध्यक्ष भुवनेश कुमार शर्मा ने बताया कि पंचायत तकनीकी सहायक गत 16 अगस्त से हड़ताल पर हैं।

सचिवालय के बाहर किया जोरदार प्रदर्शन

संघ की मांग है कि समस्त पंचायत तकनीकी सहायकों को नियमित किया जाए, पंचायतीराज विभाग में तकनीकी विंग बनाया जाए और सभी पंचायत तकनीकी सहायकों को ग्रामीण विकास विभाग के तहत न लेकर पंचायती राज विभाग के अंतर्गत लिया जाए। इनका कहना है कि वर्ष 2012 में इन्हें दिहाड़ीदार बनाया गया, लेकिन मौजूदा सरकार ने अब इस हक से भी इन्हें बाहर कर दिया है।

shimla-strike2मांगों को लेकर तकनीकी सहायक मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह से भी मुलाकात कर चुके हैं। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने पंचायत तकनीकी सहायकों को आश्वासन दिया था कि उनकी मांगों पर जल्द कार्रवाई की जाएगी। वहीं, भुवनेश कुमार ने बताया कि वह ज्वांइट डायरेक्टर केवल शर्मा और पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा से भी इस मामले में मुलाकात कर चुके हैं लेकिन नियमितीकरण को लेकर उनकी मांग पर सहमति नहीं बन पाई। भुवनेश कुमार ने कहा कि पंचायतों में होने वाले विकास कार्यों में तकनीकी सहायकों का अहम रोल है, लेकिन आज तक तकनीकी सहायकों के नियमतीकरण के लिए कोई ठोस नीति नहीं बन पाई है जिस कारण उन्हें मजबूरन आंदोलन का रास्ता अपनाना पड़ा। हड़ताल पर बैठे 1100 तकनीकी सहायकों ने कहा कि अगर उन्हें जल्द नियमित न किया गया तो उनका यह आंदोलन और उग्र होगा। गौरतलब है कि पिछले दिनों पंचायत राज मंत्री अनिल शर्मा ने उन्हें दो टूक चेतावनी दी थी कि तकनीकी सहायक या तो हड़ताल छोड़ें या फिर टर्मिनेशन को तैयार रहें। मंत्री ने पूर्व सरकार पर इस वर्ग को गुमराह करने का आरोप लगाया था। उनका कहना था कि सीएम वीरभद्र सिंह के आदेशों पर इनके लिए नीति बनाई गई है और वर्ष पूरा करने के बाद इन्हें नियमित किया जाएगा।

 

 

 

shimla1

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है