Expand

कांग्रेस नेतृत्व पर जुबान फिसलते ही संभली मीनाक्षी

कांग्रेस नेतृत्व पर जुबान फिसलते ही संभली मीनाक्षी

- Advertisement -

यशपाल शर्मा/शिमला। कांग्रेस के भीतर राष्ट्रीय स्तर पर ओल्ड बनाम न्यू गार्ड की लड़ाई लंबे समय से चल रही है। युवा नेताओं की जमात भी राहुल को कांग्रेस अध्यक्ष चाहती है तो पुराने धुरंधर सोनिया गांधी के ही राष्ट्रीय अध्यक्ष बने रहने के पक्ष में हैं। टीम राहुल की कद्दावर युवा नेता मीनाक्षी नटराजन बुधवार को शिमला में थीं। उनसे कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में पत्रकारों ने आगामी वर्ष होने वाले विधानसभा चुनावों में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की भूमिका को लेकर सवाल किया।

shimla-sukhuराहुल गांधी के साथ जोड़ा सोनिया गांधी का नाम

मीनाक्षी शुरू में तो राहुल को लेकर अपने तय ट्रैक पर चल पड़ीं, लेकिन एकदम संभल गईं कि उनसे चूक हो रही है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी हम सभी को नेतृत्व दे रहे हैं। आने वाले समय में भी हम उनके नेतृत्व में जैसे कि सोनिया गांधी के नेतृत्व में चुनाव लड़ेंगे। आज़ादी, लोकतंत्र, समता और न्याय की लड़ाई लड़ी जाएगी। उन्होंने जम्मू-कश्मीर व पंचायती राज के मुद्दे पर कहा कि घाटी में सबसे पहले कांग्रेस ने ही अपने कार्यकाल में पंचायतों के चुनाव कराए। पंचायत प्रधानों को अधिकार दिए। अब वहां हालात तनावपूर्ण हैं। सब रुका हुआ है। दुर्भाग्यपूर्ण है कि पंचायत चुनाव भी नहीं हो पाए। अब सबसे बड़ी चुनौती और काम सभी दलों को मिलकर घाटी में शांति और विश्वास पुनः कायम करना है। बलूचिस्तान के मामले को उन्होंने सबसे संवेदनशील मुद्दा बताया। मीनाक्षी ने कहा कि पाकिस्तान के साथ तब तक अन्य किसी भी मुद्दे पर वार्ता नहीं होनी चाहिए, जब तक सीमा पार आतंकवाद के मुद्दे का हल नहीं होता और पाकिस्तान इसे नहीं रोकता।

ग्राम स्वराज से ही पूर्ण स्वराज संभव

शिमला। कांग्रेस नेत्री व अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राजीव गांधी पंचायती राज संगठन की अध्यक्ष मीनाक्षी नटराजन ने कहा है कि पंचायतों को अधिकार देने व सत्ता हस्तांतरण की प्रक्रिया में कांग्रेस काफी करीब रही है। वे कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में पंचायती राज सम्मेलन में बोल रही थीं। इसमें चुने हुए जिला परिषद सदस्यों, अध्यक्ष-उपाध्यक्ष, बीडीसी सदस्य चेयरमैन व उपाध्यक्ष, स्थानीय निकायों के पार्षद व मेयर-डिप्टी मेयर को बुलाया गया है।

shimla-sukhu1कांग्रेस नेत्री मीनाक्षी नटराजन बोलीं, कांग्रेस पंचायती राज की हितैषी

मीनाक्षी ने कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के समय से ही पंचायतों को मजबूत करने की कोशिश की जा रही है। ग्राम स्वराज से ही पूर्ण स्वराज का सपना सम्भव है। पंचायतों में ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए कार्य हो रहे हैं। जिन राज्यों में भी कांग्रेस सरकारें हैं, वहां पर पंचायतों को मजबूत करने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। चुने हुए पंचायती राज व स्थानीय निकाय प्रतिनिधियों से संवाद कायम करना महत्वपूर्ण कदम है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा कि पंचायतों को मजबूत करना पूर्व पीएम राजीव ग़ांधी का सपना था। एक दिन का अधिवेशन चुने हुए प्रतिनिधियों की समस्याएं सुनने के लिए रखा गया है। इसमें पंचायती राज सिस्टम की कमियों पर चर्चा के साथ ही पंचायत प्रतिनिधियों को मिलने वाले अधिकारों पर भी चर्चा होगी। बैठक में चुने प्रतिनिधियों के विचार सुने जाएंगे। इसका जो भी सार निकलेगा, उससे सीएम वीरभद्र सिंह और पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा की अवगत कराया जाएगा। सरकार से कमियों में सुधार व अधिकार प्रदान किए जाने का भी आग्रह करेंगे। सम्मेलन में पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा व शहरी विकास मंत्री सुधीर शर्मा को भी बुलाया गया है। वे कैबिनेट बैठक खत्म होने के बाद चुने हुए जनप्रतिनिधियों की समस्याएं जानेंगे। कार्यक्रम शुरू होने से पहले मीनाक्षी नटराजन का कांग्रेस मुख्यालय पहुंचने पर महासचिव हरभजन सिंह भज्जी, सुरेंद्र चौहान, राजनीतिक सचिव अनिल गोयल व रघुवीर बाली ने स्वागत किया। दीप प्रज्वलन के साथ ही उरी आतंकी हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए सभी ने दो मिनट का मौन रखा।

shimla-sukhu2

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है