Covid-19 Update

58,645
मामले (हिमाचल)
57,332
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,112,241
मामले (भारत)
114,689,260
मामले (दुनिया)

अनिल बोले, अब पंचायतों को सीधे मिलेंगे 1800 करोड़

अनिल बोले, अब पंचायतों को सीधे मिलेंगे 1800 करोड़

- Advertisement -

Panchayati Raj minister Anil Sharma :कुल्लू। पंचायती राज मंत्री अनिल शर्मा ने  कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के चहुंमुखी विकास के लिए सरकार 14वें वित्त आयोग की 1800 करोड़ रुपए की धनराशि सीधी पंचायतों को जारी कर रही है। इस पैसे के सदुपयोग और ग्रामीण क्षेत्रों में विकास कार्यों को गति प्रदान करने के लिए सभी लोग ग्राम सभाओं में अवश्य भाग लें। अनिल शर्मा ने बताया कि सरकार ने जिला परिषदों और पंचायत समितियों के माध्यम से विकास कार्यों के लिए 32 करोड़ रुपए के बजट का प्रावधान किया है। बुधवार को आनी विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत पलेही में 80 लाख रुपए की लागत से निर्मित रैहची-खणी सड़क का उद्घाटन किया। इस अवसर पर एचआरटीसी की बस को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

मिल्क फेडरेशन का  मुनाफा चार करोड़ से अधिक

जनसभा में पशुपालन विभाग की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए अनिल शर्मा ने कहा कि दुधारू पशुओं की नस्ल सुधार के लिए आधुनिक तकनीक का प्रयोग किया जा रहा है। देसी नस्ल पर भी अनुसंधान किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार मिल्क फेडरेशन को घाटे से उबारने में कामयाब हुई है और अब इसका मुनाफा चार करोड़ से अधिक हो गया है। इसका सीधा लाभ प्रदेश के दुग्ध उत्पादकों को होगा। फेडरेशन पहली बार दुग्ध सहकारी सभाओं को बोनस दे रही है। अनिल शर्मा ने कहा कि दुग्ध उत्पादन में आनी विधानसभा क्षेत्र ने कई मुकाम हासिल किए हैं। अनिल शर्मा ने क्षेत्र की दुग्ध उत्पादक सभाओं को मिल्क फेडरेशन की ओर से बोनस के चेक भी बांटे। 

ये भी पढ़ें : Anil Sharma बोले, मुझे BJP के अनशन से नहीं पड़ता कोई फर्क

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है