Covid-19 Update

58,598
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,095,852
मामले (भारत)
114,171,879
मामले (दुनिया)

Paonta में कुकर्म मामला : एक हफ्ते बाद भी आरोपी पकड़ से दूर

Paonta में कुकर्म मामला : एक हफ्ते बाद भी आरोपी पकड़ से दूर

- Advertisement -

पांवटा साहिब। गुरु की नगरी पांवटा साहिब में गुरु-शिष्य के पवित्र रिश्ते को शर्मसार करने के आरोपी अभी तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं। वहीं पीड़ित की मां ने आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की मांग उठाई है। गौरतलब है कि एक गरीब रिक्शा चालक युवक को अपने ही गुरु द्वारा अपहरण, मारपीट और पिस्तौल की नोक पर कुकर्म किए जाने का आरोपी मामले के लगभग एक सप्ताह बाद भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं। हालांकि पुलिस आरोपियों को पकड़ने के लिए लगातार छापेमारी कर रही है, लेकिन सफलता न मिलने से पांवटा क्षेत्र में पुलिस प्रशासन के प्रति लोगों में आक्रोश पनप रहा है। दूसरी और पीड़ित युवक की सुरक्षा को लेकर उसकी माता और साथी चिंतित है।

पीड़ित युवक और परिजनों पर समझौता करने का दबाव

युवक व उसके परिजनों पर समझौता करने के लिए कथित तौर पर लगातार दबाव बनाया जा रहा है। आरोपी परमिंदर सिंह ने ही गरीब रिक्शा चालक सोनू को गतका आदि चलाना सिखाया तथा पिछले लगभग 20 वर्षों से उसका गुरु है, जिसने अपने 3 अन्य साथियो के साथ बीते 9 नवंबर को यह कुकृत्य किया है। गौर रहे कि इस घिनोने और धार्मिक नगरी को शर्मसार करने वाली घटना से पांवटा क्षेत्र में हर कोई लज्जित है और डर के साए में जीने को मजबूर है। डर इसलिए क्योंकि रिक्शा चालक युवक को सरेआम किडनैप करके मारपीट और पिस्तौल की नोक पर कुकर्म करने के चारों आरोपी खुले में घूम रहे हैं।

आरोपी लगातार पुलिस को गच्चा देने में कामयाब हो रहे हैं। आरोपी पांवटा क्षेत्र में ही कहीं दुबके हैं या अन्य राज्यों में पहुंच गए हैं, यह भी पता नहीं है। ऐसे में पांवटा के आम लोगों व पीड़ित युवक, उसकी माता और साथियों में डर का माहौल है। इस बीच पीड़ित की मां ने पुलिस की नाकामी पर हैरानी जताते हुए बताया कि मामले में समझौता करने के लिए लगातार दबाव बनाया जा रहा है। वही, घटना के इतने दिनों बाद भी अमानवीय कुकृत्य का शिकार हुए युवक के हालात में सुधार नहीं हुआ है। मार के असर से युवक चल फिर भी नहीं पा रहा है। उधर, पांवटा डीएसपी प्रमोद चौहान ने बताया कि आरोपियों की पकड़ने के लिए लगातार दबिश दी जा रही है और आरोपियों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है