Covid-19 Update

58,543
मामले (हिमाचल)
57,287
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,077,957
मामले (भारत)
113,760,666
मामले (दुनिया)

परमार बहनें मलेशिया के पिनांग में दिखाएंगी दम

परमार बहनें मलेशिया के पिनांग में दिखाएंगी दम

- Advertisement -

दयाराम कश्यप, सोलन। मलेशिया के पिनांग में 6 से 15 सितंबर होने वाली एशिया पैसिफिक मास्टर गेम्स में परमार बहनें देश का प्रतिनिधित्व करेंगी। कल्पना परमार व सीमा परमार इस प्रतियोगिता में लंबी दूरी की रेस और रिले रेस में भाग लेंगी। भारतीय खिलाड़ी पहली बार एशिया पैसिफिक मास्टर गेम्स में हिस्सा ले रहे हैं। इस प्रतियोगिता के लिए यह दोनों बहनें पूरी तैयारी के साथ मैदान में उतरेंगी।

उनका सपना है कि वह देश के लिए पदक जीतकर लाएं। इससे पहले में दोनों बहनें जापान, सिंगापुर समेत अन्य इंटरनेशनल मुकाबलों में देश का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं। सामाजिक जीवन, शारीरिक अनुकूलताओं- प्रतिकूलताओं पारिवारिक उत्तरदायित्वों और नौकरी में तालमेल बिठाकर वह खेलों से जुड़ी हैं।

सोलन ब्वॉयज स्कूल में इतिहास प्रवक्ता है कल्पना

सोलन के ब्वॉयज सीनियर सेकेंडरी स्कूल सोलन में इतिहास प्रवक्ता के पद कार्यरत कल्पना परमार में 40 प्लस आयु वर्ग में 5000 मीटर, 10000 मीटर व 21 किलोमीटर (हॉफ मैराथन) रेस इवेंट में भाग लेंगी। इसके अलावा रिले रेस में भी भाग लेंगी। 3 अप्रैल से 8 अप्रैल को चंडीगढ़ सेक्टर-7 में आयोजित नेशनल मास्टर्स गेम्स में कल्पना परमार ने 10 हजार मीटर में गोल्ड, 5 हजार मीटर में सिल्वर व रिले रेस में सिल्वर में गोल्ड मेडल जीतकर हिमाचल प्रदेश का नाम रोशन किया है।

छात्रा सीनियर सेकेंडरी स्कूल नाहन में इतिहास प्रवक्ता है सीमा परमार

नाहन के सीनियर सेकेंडरी स्कूल (छात्रा) नाहन में इतिहास प्रवक्ता पद पर कार्यरत सीमा परमा भी मलेशिया में 45 प्लस आयु वर्ग में सीमा भी 5 हजार मीटर, 10 हजार मीटर और 21 किलोमीटर हॉफ मैराथन इवेंट में भाग लेंगी। 3 अप्रैल से 8 अप्रैल को चंडीगढ़ सेक्टर-7 में आयोजित नेशनल मास्टर्स गेम्स में सीमा परमार ने 1500 मीटर में गोल्ड, 5 किलोमीटर में सिल्वर और 10 किलोमीटर में भी सिल्वर मेडल जीत चुकी हैं। इस गेम्स में बेहतर प्रदर्शन के आधार पर इन खिलाड़ियों का मलेशिया के लिए चयन हुआ। अब दोनों बहनों को उम्मीद है कि वह इस बार देश के लिए पदक आवश्य जीतकर लाएंगी।

बास्केटबॉल टीम में हिमाचल की एकमात्र महिला खिलाड़ी

मलेशिया के पिनांग में एशिया पैसेफिक मास्टर गेम्स में 35 प्लस महिला बास्केटबॉल टीम में हिमाचल की एकमात्र महिला खिलाड़ी बवीता कुमारी शामिल हैं। बवीता ने बताया कि टीम में 8 महिलाएं तमिलनाडू, एक उत्तराखंड और एक हिमाचल की है। बवीता का जन्म 1 जुलाई 1979 को बिलासपुर के औहर गांव में रतनलाल व कमलेश के घर हुआ। बवीता हिमाचल प्रदेश वन विभाग में फॉरेस्ट गार्ड के पद पर हमीरपुर रेंज की झनियारी बीट में कार्यरत हैं और वन विभाग की ओर से आयोजित खेल प्रतियोगिताओं में उनका बेहतर प्रदर्शन रहा है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है