Covid-19 Update

1,58,472
मामले (हिमाचल)
1,20,661
मरीज ठीक हुए
2282
मौत
24,684,077
मामले (भारत)
163,215,601
मामले (दुनिया)
×

बेरोजगारी भत्ते पर कमेटी गठित,वीरभद्र से मिलकर करेगी चर्चा

- Advertisement -

लोकिन्दर बेक्टा/ शिमला। ना-ना करते बेरोजगारी भत्ते पर सहमति बनाने की दिशा में कांग्रेस आगे बढती दिख रही है। इसलिए ही प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने बेरोजगारी भत्ते को लेकर प्रदेश सरकार को सुझाव देने के लिए एक कमेटी गठित कर दी है। पीसीसी चीफ सुखविंदर सिंह सुक्खू की अध्यक्षता में बनी कमेटी में पीसीसी उपाध्यक्ष हर्ष महाजन और रंगीला राम राव, महासचिव हरभजन सिंह भज्जी, हर्षवर्धन चौहान और नरेश चौहान, प्रवक्ता कुलदीप पठानिया और युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रमादित्य सिंह इस कमेटी के सदस्य बनाए गए हैं । यह कमेटी जल्द ही सीएम वीरभद्र सिंह से मिलेगी और बेरोज़गारी भत्ते के मुद्दे पर चर्चा करेगी । इससे पहले पीसीसी चीफ सुखविंद्र सिंह सुक्खू ने कहा है कि बेरोजगार भत्ते के मसले पर पार्टी गंभीरता से विचार कर रही है। इसे लागू करवाने को लेकर कांग्रेस ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में वादा किया है और इसे लागू करवाने के प्रारूप को पार्टी सरकार को सौंपेगी। पार्टी की प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में सुक्खू ने कहा कि बेरोजगार भत्ते को कैसे लागू किया जाएए इसे लेकर पार्टी अपना प्रारूप सीएम वीरभद्र सिंह को बताएगी।


अधिकांश समर्थन में तो कुछ बोले आर्थिक हालत ठीक नहीं

इस प्रारूप को को लेकर पीसीसी के वरिष्ठ नेता जल्द सीएम से मिलकर इस पर बात करेंगे। कांग्रेस की सोमवार को हुई बैठक में बेरोजगार भत्ते के मुद्दे पर विस्तार से चर्चा हुई और इसे लेकर अधिकतर सदस्य इसके समर्थन में थे और कुछ राज्य की वित्तीय स्थिति के मद्देनजर इसे न देने की वकालत कर रहे थे। इनका मत था कि युवाओं को बेरोजगार भत्ता न देकर उनके कौशल का विकास किया जाएए ताकि वे आगे चलकर अपने पैरों पर खड़े हो सकें और स्वरोजगार को अपना सकें।


घोषणापत्र में किए वादे पूरा करें

बैठक में सभी ने एकमत से कहा कि सरकार अपने चुनाव घोषणापत्र में किए गए सभी वादों को पूरा करें। क्योंकि जनता से जो वायदे किए गए हैंए उसे पूरा करना जरूरी है, क्योंकि घोषणा पत्र सरकारी दस्तावेज घोषित किया गया है। बैठक में बेरोजगार भत्ते के मुद्दे पर विस्तार से चर्चा हुई और कहा गया कि इस वादे को भी पूरा करना चाहिए। इस बैठक में तय हुआ कि पार्टी के कुछ वरिष्ठ सदस्य इस मुद्दे पर सीएम से मिलकर पार्टी की तरफ से एक प्रारूप तैयार कर उन्हें बताएंगे और उस पर विचार करेंगे। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में करीब 5 घंटे चली बैठक में बेरोजगारी मुद्दे पर गंभीर चर्चा हुई।

Watch Video:

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है