Expand

बिना अंगुली रंगे ही बदल दिया Cash 

बिना अंगुली रंगे ही बदल दिया Cash 

- Advertisement -

शिमला/धर्मशाला। आज का दिन निकल गया पर बैंक गए किसी भी ग्राहक की अंगुली पर स्याही नहीं लग पाई। ग्राहकों ने बैंक जाकर राशि को एक्सचेंज करवाया पर यह काम बिना स्याही लगवाए ही निपट गया। कारण सीधा था, कई बैंकों में वह स्याही ही उपलब्ध नहीं है जो अंगुली पर लगाई जानी है। इसके चलते बैंक किसी भी ग्राहक को बैरंग कैसे लौटा देते। इससे पहले मंगलवार को कहा गया था कि बैंक से नोट बदलवाने से पहले अंगुली पर स्याही लगवानी होगी। प्रदेश भर में बैंक आज पहले तो राशि का ही इंतजाम करते रहे, राशि मिलने के बाद स्याही नहीं मिली। शिमला के कुछ बैंकों में हालांकि स्याही लगाई गई लेकिन बैंकों में कैश नहीं होने के कारण स्याही लगाते भी तो कितने ग्राहकों को को।
bankबार-बार नोट बदलवाने आ रहे लोगों पर नजर रखने के मकसद से अंगुली पर मतदान के दौरान लगने वाली न मिटने वाली स्याही लगाई जानी है। यह व्यवस्था राजधानी के कुछ बैंकों में तो शुरू हुई, लेकिन बाकी बैंकों में स्याही ही नहीं पहुंच पाई थी। स्याही नहीं लग पाने का एक कारण बैंकों के पास लोगों को देने के लिए पैसा नहीं होना भी रहा। ऐसे में बैंक केवल डिपॉजिट ही ले रहे थे।
राजधानी में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और स्टेट बैंक आफ पटियाला में नोट एक्सचेंज करने आ रहे लोगें की अंगुली में स्याही लगाई जा रही थी। इन बैंकों में लोगों को पैसे भी मिल रहे हैं। लेकिन राज्य सहकारी बैंक अभी भी पैसे की कमी से जूझ रहा है। इस बैंक में नोट एक्सचेंज नहीं हुए। बैंक में केवल खाते में डिपॉजिट ही लिया गया।
राज्य सहकारी बैंक के प्रबंध निदेशक गोपाल शर्मा ने कहा कि उनके बैंक में पैसे की कमी चल रही है। इस कारण बैंक में नोट एक्सचेंज करने आने वाले लोगों को पैसा नहीं दिया गया। उनका कहना था कि नोट एक्सचेंज करने पर लोगों की अंगुली में स्याही लगाई जाएगी और ऐसा तब हो पाएगा, जब बैंक के पास लोगों को देने के लिए नकदी होगी। वे अभी भी करंसी चैस्ट बैंकों एसबीआई और यूको बैंक से पैसे मिलने का इंतजार कर रहे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है