×

बारन के Milk collection center में गड़बड़झाला

बारन के Milk collection center में गड़बड़झाला

- Advertisement -

सोलन। जिला में दूध एकत्रीकरण केंद्र पर लोगों ने सवाल उठा दिए हैं। लोगों का आरोप है कि केंद्र की ओर से न तो उन्हें नवंबर-दिसंबर की पेमेंट मिली है और न ही अब दूध जमा करवाने के बाद पर्ची दी जा रही है। सोलन की धरोट पंचायत के बारन में चल रहा दुग्ध एकत्रीकरण केंद्र दूग्ध उत्पादकों के लिए परेशानी का सबब बन गया है।


  • solan-4सोलन में दो महीनों से लटकी है लोगों की पेमेंट
  • दूध जमा करवाने के बाद नहीं मिलती पर्ची

धरोट के बारन स्थित इस केंद्र में न तो मशीनें ठीक है और न ही लोगों को दूध देने के बाद पर्ची दी जा रही है। लोगों को अपने दूध के पैसों के लिए इंतजार करना पड़ रहा है। इसके साथ ही संस्था के रवैये पर सवाल भी उठ रहे हैं। किसानों को उनके दूध की पर्ची न दिया जाना भी इस केंद्र की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह लगा रहा है।

solan4वहीं, सैंपल लेने की मशीनरी भी खराब पड़ी है। यह खराब मशीन एक ही दूध के अलग-अलग सैंपल दिखाती है, जिससे लगता है कि यहां बड़े घोटाले को अंजाम दिया जा रहा है। यही नहीं यहां निम्न दरों पर दूध खरीदा जा रहा है, जिसकी कीमत पानी के बराबर है। दूध उत्पादकों की मांग को केंद्र द्वारा अनदेखा किया जा रहा है। बारन दूग्ध केंद्र में दूध देने वाले लोगों का कहना है कि पिछले नवंबर- दिसंबर माह से उन्हें दूध की राशि अदा नहीं की गई है, जिससे उनके दैनिक खर्च पर असर पड़ रहा है। आर्थिक तंगी परिवार के पालन पोषण में परेशानी बनकर उभरी है। जिला दूग्ध एकत्रीकरण सभा के अध्यक्ष नंदलाल ठाकुर ने कहा कि कुछ एक शिकायतें आई हैं।

 solan-5सभी दूग्ध एकत्रीकरण केंद्र के सभी खातों में ऑनलाइन पेमेंट दी जा रही है। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व दूग्ध संग्रहन केंद्र के पैसे कैश से दिए जाते थे। उन्होंने हमारे पास तो दो रुपए रेट बढ़ाने की बात कही है। वहीं दूग्ध एकत्रीकरण केंद्र बारन के संचालक ने कहा कि उन्हें पिछले दो वर्षों से इस दूग्ध संग्रहण केंद्र को चलाने में कई समस्याएं आ रही हैं। उन्होंने कहा कि एक तो संस्था अपनी मशीनें ठीक नहीं करवाती, जिससे पर्ची व अन्य सुविधा किसानों को नहीं दी जा रही है। उन्होंने कहा कि संस्था द्वारा उनकी बातों को अनदेखा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सभी मशीनें खराब है। इसके बारे में उच्चाधिकारियों से बात की जा रही है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है