×

छोटी काशी में राज माधव राय संग मनाई होली, खूब उड़ाया गुलाल

छोटी काशी में राज माधव राय संग मनाई होली, खूब उड़ाया गुलाल

- Advertisement -

मंडी। छोटी काशी के नाम से विख्यात मंडी( Mandi)  में होली का त्योहार हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। परंपरा के अनुसार यहां पर एक दिन पहले यहां होली का त्योहार मनाया जाता है। मंडी की होली की खास बात यह भी है कि यहां पर होली भगवान के साथ मनाई जाती है और सबसे पहले राज माधव राय ( Raj Madhav Rai) को रंग लगाकर दूसरों को रंग लगाया जाता है।

 


 
यह भी पढ़ें  :  होली का रंग उतरते ही हिमाचल में कांग्रेस के चेहरे हो जाएंगे साफ, 22 को CEC

 

बता दें कि भगवान श्री कृष्ण के रूप राज माधव राय को मंडी के राजा ने अपना राजपाठ सौंप दिया था जिसके बाद भगवान ही मंडी रियासत के राजा बन गए थे। तभी से यह परंपरा चली आ रही है कि यहां पर सबसे पहले भगवान को होली लगाई जाती है। बुधवार दोपहर करीब दो बजे तक लोगों ने एक दूसरे पर जमकर गुलाल उड़ाया और होली का यह त्योहार मनाया। उसके बाद राज माधव राय की पालकी पूरे शहर की परिक्रमा करने निकली और जैसे ही यह परिक्रमा संपन्न हुई तो उसके बाद मंडी शहर का होली का त्योहार भी संपन्न हो गया।

मंडी शहर के ऐतिहासिक सेरी मंच( Sari manch)  पर डीजे की धुनों पर लोगों ने जमकर डांस किया और गुलाल उड़ाकर रंगों के इस पर्व की खुशियों को सभी के साथ सांझा किया। यहां पर न सिर्फ स्थानीय बल्कि बाहर से आए लोगों ने भी रंगों का यह त्योहार मनाया और एक दूसरे को गुलाल लगाकर होली की बधाई दी। मंडी की होली की खास बात यह है कि यहां पर न तो लठमार होली होती है और न कीचड़ वाली । बड़ी बात यह भी है यहां पर किसी भी अनजान को रंग नहीं लगाया जाता। लड़कियां और महिलाएं भी इस त्योहार को पूरे उत्साह के साथ मनाती हैं।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है