Covid-19 Update

1,47,298
मामले (हिमाचल)
1,08,239
मरीज ठीक हुए
2098
मौत
23,703,665
मामले (भारत)
161,117,824
मामले (दुनिया)
×

लंज CHC के बाहर महिलाओं ने किया भजन-कीर्तन, कारण जानने को पढ़ें खबर

सीएचसी में मूलभूत सुविधाएं ना होने के खिलाफ दिया धरना

लंज CHC के बाहर महिलाओं ने किया भजन-कीर्तन, कारण जानने को पढ़ें खबर

- Advertisement -

लंज। हिमाचल के जिला कांगड़ा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (CHC) लंज में मूलभूत सुविधाओं की कमी के खिलाफ लोगों ने मोर्चा खोल दिया है। आज चंगर संघर्ष समिति लंज के बैनर तले महिला मंडल और व्यापार मंडल आदि के सदस्यों ने सीएचसी के बाहर धरना दिया। इस दौरान महिलाओं ने भजन-कीर्तन किया। लोगों ने दो टूक कहा है कि अगर उनकी मांग नहीं मानी गई तो भूख हड़ताल पर बैठने से भी गुरेज नहीं करेंगे।


यह भी पढ़ें: ऑक्सीजन की हिमाचल के इस जिला में अब नहीं होगी कमी, कुछ ऐसा हो गया है जुगाड़

संघर्ष समिति के प्रधान जन्म सिंह गुलेरिया, व्यापार मंडल प्रधान नसीब राणा, कैप्टन कपूर सिंह गुलेरिया व कुलदीप सिंह भंडारी आदि का कहना है कि आठ साल पहले पीएचसी (PHC) लंज को अपग्रेड कर सीएचसी बनाए जाने की घोषणा की गई थी। 2016 में इसकी नोटिफिकेशन (Notification) हुई थी। सीएचसी के दर्जा मिले चार साल से अधिक का समय हो गया है, लेकिन अभी तक यहां पर मूलभूत सुविधाएं नहीं हैं। मात्र नाम का ही सीएचसी है। यहां पर ना तो सीएचसी लेबल का स्टाफ है और ना ही एंबुलेंस व लैब आदि है। क्षेत्र से अगर कोई बीमार हो जाता है तो नगरोटा से एंबुलेंस (Ambulance) मंगवानी पड़ती है और मरीज को एंबुलेंस में नगरोटा सूरियां ले जाया जाता है। अगर किसी मरीज की हालत खराब होने से उसे नगरोटा सूरियां से मेडिकल कॉलेज टांडा (Medical College Tanda) रेफर किया जाए तो 12 किलोमीटर आने और 12 किलोमीटर जाने का सफर पड़ता है। साथ ही नगरोटा से निजी वाहन कर जाना पड़ता है। अगर यही सुविधाएं सीएमसी लंज में हो तो यहीं से व्यक्ति को टांडा ले जाया जाए। इससे ना केवल समय की बचत होगी वहीं, किसी की जान भी बच सकेगी। उन्होंने कहा कि धर्मशाला प्रवास के दौरान सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) को भी ज्ञापन सौंपा था। अब रिमांडर भेजा जाएगा। अगर उसके बाद भी सीएचसी में मूलभूत सुविधाएं आदि मुहैया नहीं करवाई गई तो निरंतर धरना शुरू किया जाएगा। साथ ही भूख हड़ताल पर बैठने से भी गुरेज नहीं करेंगे।


 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है