Covid-19 Update

58,570
मामले (हिमाचल)
57,311
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,079,094
मामले (भारत)
113,988,846
मामले (दुनिया)

गुड़िया मर्डर केसः CM Virbhadra Singh के पुतले फूंके, जमकर हुई नारेबाजी

गुड़िया मर्डर केसः CM Virbhadra Singh के पुतले फूंके, जमकर हुई नारेबाजी

- Advertisement -

वीरभद्र से इस्तीफे की मांग को लेकर बीजेपी आग बबूला, प्रदेश भर में प्रदर्शन

शिमला। गुड़िया प्रकरण के मामले पर बीजेपी ने सीएम वीरभद्र सिंह से इस्तीफे की मांग की है। बीजेपी ने अपनी मांग पर दबाव बनाने के लिए गुरुवार को प्रदेश भर में बूथ स्तर पर सीएम के पुतले जलाए। महिला मोर्चा के बैनर तल एकजुट हुए बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पोलिंग बूथों पर पुतले जलाए। बता दें कि बीजेपी ने अल्टीमेटम दिया था कि यदि वीरभद्र सिंह सीएम पद से 26 जुलाई तक इस्तीफा नहीं देते तो बीजेपी 27 जुलाई को राज्य भर पोलिंगबूथ स्तर पर सीएम का पुतला जाएगी। इसके तहत आज बीजेपी ने आज जगह-जगह सीएम के पुतले जलाए और सीएम के खिलाफ नारेबाजी कर इस्तीफे की मांग की।

Virbhadra Resignationबीजेपी महिला मोर्चा ने किया धरना-प्रदर्शन

हमीरपुर। गुड़िया मर्डर केस में सीएम वीरभद्र सिंह के इस्तीफे को लेकर बीजेपी महिला मोर्चा अब मैदान में आ गई है। हमीरपुर में गुरुवार को एक ओर जहां धरना-प्रदर्शन किया गया तो वहीं, सीएम का पुतला भी आग के हवाले किया। बहरहाल, कोटखाई में गुड़िया मर्डर केस को लेकर गुरुवार को बीजेपी महिला मोर्चा ने हमीरपुर में सीएम वीरभद्र सिंह के पुतले जलाए।हमीरपुर शहर के गांधी चौक, भोटा चौक, पक्का भरो सहित हर एक बूथ पर सीएम के पुतले जलाए गए और जमकर नारेबाजी की गई।गांधी चौक पर धरना प्रदर्शन के दौरान महिला मोर्चा की प्रभारी सुमन कपिल, प्रदेश बीजेपी सचिव विजय पाल सोहारू समेत कई कार्यकर्ता मौजूद रहे। बीजेपी प्रदेश सचिव विजय पाल सोहारू ने बताया कि गुड़िया मामले में सीएम वीरभद्र सिंह द्वारा इस्तीफा न दिए जाने पर पूरे प्रदेश में सीएम के पुतले जलाए गए हैं।

प्रदेश में भ्रष्टाचार माफिया राजः सत्ती

ऊना। सीएम वीरभद्र सिंह के इस्तीफे की मांग पर अड़ी बीजेपी ने 26 जुलाई तक का अल्टीमेटम खत्म होते ही आज जिला ऊना के सभी बूथों पर सीएम वीरभद्र सिंह के पुतलों का दहन किया। प्रदेश में गुड़िया प्रकरण, भ्रष्टाचार और कानून व्यवस्था को लेकर बीजेपी के इस आंदोलन के तहत खुद बीजेपी के प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने अपनी गृह ग्राम पंचायत जलग्रां टब्बा सहित विभिन्न बूथों पर सीएम के पुतले फूंके। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि आज प्रदेश भ्रष्टाचार, माफिया राज के साथ कानून व्यवस्था का दिवाला निकल चुका है। सत्ती ने कहा कि एक नीतीश कुमार ऐसे सीएम है, जिन्होंने अपने मंत्री के भ्रष्टाचार के कारण इस्तीफ़ा दे दिया और एक हिमाचल के सीएम है वीरभद्र सिंह जो अपने भ्रष्टाचार के बाद भी कुर्सी का मोह नहीं छोड़ रहे है।

पुलिस विरोध के बावजूद जोगिंद्रनगर में जलाया पुतला

जोगिंद्रनगर। लाख चाहकर भी जोगिंद्रनगर पुलिस सीएम वीरभद्र सिंह का पुतला जलने से नहीं रोक पाई, हालांकि थाना प्रभारी सहित अनेकों पुलिस कर्मी मुस्तैद किए गए थे। बीजेपी व भाजयुमो ने जोगिंद्रनगर के थाना चौक में इकट्ठे होकर गुड़िया मर्डर केस की कड़ी आलोचना की तथा हिमाचल सरकार की नाकामियों का कच्चा चिट्ठा भी खोला। इस दौरान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई। हालांकि भाजपा की ओर से पुतला फूंकने का पूरा इंतजाम था लेकिन इसे गुप्त रखा गया था रैली के बाद पुतले पर तेल छिड़क कर उसे आग के हवाले कर दिया गया। इस दौरान पुलिस कर्मी भी उन्हे पुतला जलाने से नहीं रोक पाए।

बीजेपी ने फूंका सीएम का पुतला, इस्तीफे की मांग

नाहन। गुड़िया मर्डर केस को लेकर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने बूथ स्तर पर जगह-जगह सीएम वीरभद्र सिंह के पुतले फूंके और प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी। नाहन के बीजेपी विधायक राजीव बिंदल ने कहा कि प्रदेश की जनता का सरकार से विश्वास उठ चुका है। उन्होंने कहा कि गुड़िया प्रकरण को लेकर सरकार ने गंभीरता नहीं दिखाई। आज पूरा प्रदेश सीएम वीरभद्र सिंह का इस्तीफा मांग रहा है। उधर, कांग्रेस का कहना है कि बीजेपी ने पूरे मामले को राजनीतिक रूप दिया है। कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अजय सोलंकी ने कहा कि बीजेपी इस संवेदनशील मामले को चुनावी मुद्दा बनाना चाहती है जो बेहद निंदनीय व शर्मनाक है। उन्होंने कहा की बेहतर होता की बीजेपी प्रदर्शन के लिए कोई सही तरीका अपनाती।

कुल्लू जिला के 145 बूथों में सीएम के पुतले दहन

कुल्लू। गुड़िया प्रकरण मामले में बीजेपी ने जिला के 145 बूथों में सीएम वीरभद्र सिंह के पुतले दहन किए। बीजेपी प्रदेश महासचिव राम सिंह ने कहा कि बीजेपी ने 25 जुलाई तक सीएम वीरभद्र सिंह का इस्तीफा मांग था जिसके चलते आज पूरे प्रदेश के 7479 बूथों पर विरोध प्रदर्शन कर सीएम का पुतला दहन किया। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में कानून व्यवस्था चरमराई हुई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है