Expand

कातिलाना हमला और लूटपाट करने के दोषियों को सात साल की JAIL

कातिलाना हमला और लूटपाट करने के दोषियों को सात साल की JAIL

- Advertisement -

मंडी। कातिलाना हमला और लूटपाट करने के दो आरोपियों को अदालत ने सात साल के कठोर कारावास और तीस-30 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। आरोपियों के जुर्माना राशि को निश्चित समय में अदा न करने पर उन्हें छह-2 माह की अतिरिक्त सजा भुगतनी होगी। अतिरिक्त सत्र न्यायधीश (दो) कृष्ण कुमार के न्यायालय ने पंजाब के पटियाला जिला के राजपुरा निवासी सतनाम सिंह उर्फ टिंकू और दिप्ती सिंह उर्फ दिप्ती के खिलाफ भादंस की धारा 307, 397, 395 और शस्त्र अधिनियम की धारा 25,54 व 59 के तहत अभियोग साबित होने पर क्रमश: सात साल, पांच-पांच साल और तीन साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। ये सभी सजाएं एक साथ चलेंगी।

  • arrest-5अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश (दो) की अदालत ने सुनाया फैसला, 30-30 हजार जुर्माना
  • भगौड़े घोषित किए अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर चलाया जाएगा अभियोग

इस मामले में भगौड़ा अपराधी घोषित कर दिए गए अन्य आरोपियों जगजीत सिंह, बलविंदर और पवन कुमार के खिलाफ उन्हें गिरफ्तार करने के बाद अभियोग चलाया जाएगा। अभियोजन पक्ष के अनुसार ग्राम पंचायत रंधाडा की प्रधान सीता देवी ने पुलिस को सूचना दी थी कि कुछ लोगों ने दो निवासियों पर हमला करके उन्हें घायल कर दिया है। घायलों को उपचार के लिए क्षेत्रीय अस्पताल भेजा गया है।

पुलिस ने अस्पताल में पहुंच कर घायल कृष्ण कुमार का बयान दर्ज किया। उसका कहना था कि वह 17 मई 2009 को अपनी कार पर रंधाडा जाने के लिए बस स्टैंड के पास मौजूद था। जहां पर चार-पांच लोग उसके पास आए और कार को रिवालसर ले जाने को कहा, उसने कहा कि कार निजी है टैक्सी नहीं इसलिए वह उन्हें नहीं ले जा सकता। रात करीब 1.30 बजे वह अपने रिश्तेदार को रंधाडा से शिमला ले जाने के लिए जा रहा था। इसी दौरान उक्त लोग उसे फिर से जेलरोड के पास सड़क के बीचों बीच खडे़ हुए मिले, उन लोगों ने उससे रिवालसर मार्ग पर स्थित रंधाडा तक ले जाने की प्रार्थना की, जिस पर कृष्ण ने उन्हें कार में बिठा लिया।

police-2रंधाडा पहुंचने पर उक्त आरोपी ने उसे कुछ और आगे तक ले जाने को कहा। करीब 2.30 बजे वह गजनोहा के पास बैठे थे तो आरोपियों ने उसकी पीठ पर धारदार हथियार से प्रहार किया। जब उसने कार से निकल कर शोर मचाया तो वहां पर हवाणी निवासी रमेश कुमार और हेम सिंह पहुंचे। रमेश कुमार ने जब कृष्ण को बचाने की कोशिश की तो एक आरोपी ने उसके पेट में चाकू घोंप दिया। अधिक शोर मचाने पर काफी लोग मौका पर पहुंच गए। लेकिन, आरोपी रात के अंधेरे का फायदा उठाकर गायब हो गए। मौका पर मौजूद लोगों ने घायलों को अस्पताल में पहुंचाया। पुलिस ने मामला दर्ज करके आरोपियों की धरपकड़ के बाद उनके खिलाफ अदालत में अभियोग चलाया था।

अभियोजन पक्ष की ओर से पैरवी करते हुए लोक अभियोजक अनुज शर्मा ने 19 गवाहों के बयान कलमबंद करवा कर आरोपियों के खिलाफ अभियोग साबित किया। अदालत ने अपने फैसले में कहा कि अभियोजन पक्ष की ओर से प्रस्तुत साक्ष्यों से आरोपियों के खिलाफ कातिलाना हमला और लूटमार करने व शस्त्र अधिनियम के तहत संदेह की छाया से दूर अभियोग साबित हुआ है। इसके चलते अदालत ने आरोपियों को उक्त सजा का फैसला सुनाया है।

shooting-gun-clipartगोलियां चलाने के दोषी को एक माह की सजा

सोलन। अदालत ने उत्तराखंड निवासी परगट सिंह को दो अलग-अलग धाराओं के तहत दोषी पाते हुए एक माह का कारवास व 1250 रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना अदा  न करने की सूरत में अपराधी  को दस दिन का अतिरिक्त कारवास भोगना होगा। यह जानकारी सरकारी अधिवक्ता नितिन सोनी ने दी। उल्लेखनीय है कि परगट  पर 5  राउंड गोलियां चलाने का आरोप था।

जानकारी के अनुसार 31 जुलाई वर्ष 2010  को तत्कालीन डिप्टी एसपी रमेश शर्मा ने मध्यरात्रि गोलियों की आवाज़ सुनी। तहकीकात करने पर मालूम चला कि एक रिटायरमेंट पार्टी में हवाई फायर किए गए थे। मौके से पुलिस ने गोलियों के  खोखे भी बरामद किए, जिसके बाद कार्रवाई करते हुए  पुलिस ने  परगट सिंह के पास से पिस्तौल बरामद की। फॉरेंसिक जांच से पुष्टि हुई कि मौके से बरामद खोखे परगट से बरामद की गई पिस्टल के ही थे। तब से ही मामला कोर्ट में विचाराधीन था।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है