Covid-19 Update

2,16,430
मामले (हिमाचल)
2,11,215
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,380,438
मामले (भारत)
227,512,079
मामले (दुनिया)

CM के ‘निकम्मा’ बयान पर Pilot बोले- सार्वजनिक वक्तव्य में शालीनता व लक्ष्मणरेखा होनी चाहिए

CM के ‘निकम्मा’ बयान पर Pilot बोले- सार्वजनिक वक्तव्य में शालीनता व लक्ष्मणरेखा होनी चाहिए

- Advertisement -

जयपुर। राजस्थान (Rajasthan) की सियासत में उभरा एक बड़ा राजनीतिक संकट अब पूरी तरह से टल चुका है। शक और आरोपों की पैमाइश से शुरू हुआ यह राजनीतिक बखेड़ा बदजुबानी और आदलती पचड़ों के रास्ते से गुजरते हुए कांग्रेस (Congress) के कथित बागी सचिन पायलट (Sachin Pilot) की कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी संग बातचीत के बाद सोमवार शाम को ही लगभग पूरी तरह समाप्त हो गया था। अब राजस्थान के पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट की वापसी हो रही है। सचिन पायलट ने मंगलवार को कहा कि हमने और साथियों ने दिल्ली आकर कुछ मुद्दों को उठाया था जिनके समाधान का आश्वासन दिया गया है।

जब मैं पार्टी अध्यक्ष था तो सारे गुण मुझमें थे, लेकिन अब मैं निकम्मा हो गया

वहीं, सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) की तरफ से निकम्मा कहे जाने पर सचिन पायलट ने कहा, मैं आहत था, लेकिन घूंट पीकर रह गया। पायलट ने कहा कि सार्वजनिक वक्तव्य में शालीनता और लक्ष्मणरेखा होनी चाहिए। जब मैं पार्टी अध्यक्ष था तो सारे गुण मुझमें थे, लेकिन अब मैं निकम्मा हो गया। उन्होंने कहा, ‘अशोक गहलोत जी मुझसे बहुत बड़े हैं। मैंने व्यक्तिगत तौर पर उनका सम्मान किया है लेकिन अगर सरकार में कोई समस्या दिखती है तो मुझे बोलने का अधिकार है।’ कांग्रेस नेतृत्व से बातचीत के बाद सचिन पायलट ने कहा है कि उन्होंने किसी पद की मांग नहीं रखी है और उन्हें किसी पद की लालसा नहीं है। उन्होंने कहा, ‘हमने अपना पक्ष साफ कर दिया है कि हम कांग्रेस में रहेंगे। मेरी राजनीति सत्य व सिद्धांतों पर आधारित है।’ बकौल पायलट, वह पार्टी द्वारा दी गई ज़िम्मेदारियां निभाएंगे।

यह भी पढ़ें: राजस्थान संकट: राहुल-प्रियंका से मिलकर बोले पायलट- गहलोत के खिलाफ हूं, Congress के नहीं

पायलट की शिकायतों पर एक्शन शुरू; सोनिया ने बनाई 3 सदस्यों की कमेटी

सचिन पायलट ने कहा कि राजस्थान में जिनकी मेहनत से सरकार बनी, अगर उन्हें दरकिनार कर दिया जाएगा, उनकी भागीदारी सुनिश्चित नहीं होगी तो मेरी जिम्मेदारी थी कि राजस्थान में पार्टी प्रेसिडेंट होने के नाते उन मुद्दों को सामने लाऊं। इसके बाद मेरी राहुल और प्रियंका गांधी के साथ जो मीटिंग हुई उससे लोग काफी संतुष्ट हैं। सोनिया गांधी ने कमेटी बनाकर मामलों को सुलझाने की बात कही है। बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने सचिन पायलट की शिकायत की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित करने का फैसला किया है। ताकि पायलट और उनके समर्थक विधायकों द्वारा उठाए गए मुद्दों का उचित समाधान किया जा सके। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने इस बारे में पुष्टि करते हुए बताया कि सचिन पायलट ने सोमवार को राहुल गांधी से मुलाकात की है। इस दौरान उन्होंने अपनी शिकायत रखी थी, जिसकी जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति गठित करने का फैसला किया गया है।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखने के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है