Covid-19 Update

2,00,043
मामले (हिमाचल)
1,93,428
मरीज ठीक हुए
3,413
मौत
29,821,028
मामले (भारत)
178,386,378
मामले (दुनिया)
×

PM Modi बोले, अगर जरूरत पड़ी तो GST में बदलाव संभव

PM  Modi बोले, अगर जरूरत पड़ी तो GST में बदलाव संभव

- Advertisement -

PM Modi: नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने आज द इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज ऑफ इंडिया के गोल्डन जुबली ईयर समारोह का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने बिना नाम लिए अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा पर भी हमला बोला। 

  • ICSI के गोल्डन जुबली ईयर समारोह का किया उद्घाटन
  • बिना नाम लिए अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा पर भी बोला हमला

उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की निराशा फैलाने की आदत होती है। बता दें कि इस उद्घाटन समारोह में वह मौजूद कंपनी सेक्रेटरी को भी संबोधित कर रहे थे। पीएम ने जीएसटी पर बोलते हुए कहा कि अगर जरूरत पड़ी, तो जीएसटी में भी बदलाव संभव है।


PM Modi: हमारा मोटो – सत्य बोलो और नियम-कानून का पालन करो

पीएम मोदी ने कहा कि आज ICSI अपने 50वें वर्ष में प्रवेश कर रहा है और इस अवसर पर मैं इस संस्था से जुड़े सभी लोगों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं। आज मुझे बहुत खुशी है कि मैं ऐसे विद्वानों के बीच आया हूं, जो इस बात के लिए जिम्मेदार हैं कि देश में मौजूद प्रत्येक कंपनी कानून का पालन करे और अपने खातों में गड़बड़ी न करें। उन्होंने कहा कि आपकी संस्था का मोटो भी है- “सत्यम वद्, धर्मम चर्” यानी सत्य बोलो और नियम-कानून का पालन करो। पीएम ने यह भी कहा कि हमारे देश में मुट्ठी भर लोग ऐसे हैं, जो देश की प्रतिष्ठा को हमारी ईमानदार सामाजिक संरचना को कमजोर करने का काम करते रहे हैं। इनको हटाने के लिए सरकार ने पहले दिन से स्वच्छता अभियान शुरू किया हुआ है। जीएसटी पर पीएम ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो जीएसटी में बदलाव संभव है और जीएसटी काउंसिल इस पर विचार भी कर रही है। उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल में एक लाख 20 हजार किमी लंबी सड़कें बनी, जो पिछली की सरकारों के मुकाबले ज्यादा हैं। 

यह भी पढ़ें – [email protected] Kerala: लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है