×

मालदीव के संसद में पीएम का संबोधन, पाक पर कहा- पानी सिर से ऊपर निकल रहा

मालदीव के संसद में पीएम का संबोधन, पाक पर कहा- पानी सिर से ऊपर निकल रहा

- Advertisement -

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 में प्रचंड जीत हासिल दूसरी बार सरकार बनाने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) अपनी पहली विदेश यात्रा के लिए शनिवार को मालदीव पहुंचे। यहां पर पीएम मोदी ने पहले तो मालदीव (Maldives) के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह के साथ एक बैठक की। इसके बाद पीएम मोदी को मालदीव के सर्वोच्च सम्मान निशान इज्जुद्दीन से नवाजा गया। इसके बाद पीएम मोदी मालदीव की संसद (Parliament) पहुंचे। यहां अपने संबोधन (address) में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘मालदीव दुनिया का नायाब नगीना है। मैं अपने और भारत की ओर से इस सदन को धन्‍यवाद देता हूं। मैं दूसरी बार यहां आया और दूसरी बार सदन की कार्रवाई का साक्षी बना।’


 

यह भी पढ़ें: मालदीव के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘निशान इज्जुद्दीन’ से नवाजे गए मोदी

 

बोले- आतंकियों को धन और हथियारों की कभी कमी नहीं होती

इस दौरान पीएम ने इशारों ही इशारों में पाकिस्तान (Pakistan) पर निशाना साधते हुए कहा कि यह बहुत बड़ा दुर्भाग्य है कि लोग अभी भी गुड टेररिस्ट और बैड टेररिस्ट का भेद करने की गलती कर रहे हैं। पानी अब सिर से ऊपर निकल रहा है। आतंकवाद और कट्टरता से निपटना विश्व के नेतृत्व की सबसे खरी कसौटी है। आतंकवाद (Terrorism) हमारे समय की बड़ी चुनौती है। आतंकवादियों के न तो अपने बैंक होते हैं और ना ही हथियारों की फैक्ट्री। फिर भी उन्हें धन और हथियारों की कभी कमी नहीं होती। कहां से पाते हैं वे यह सब? कौन देता है उन्हें ये सुविधाएं? आतंकवाद की स्टेट स्पॉन्सरशिप सबसे बड़ा खतरा बना हुआ है। पीएम मोदी ने अपने सम्बोधन में आगे कहा कि भारत (India) अपनी शक्ति और क्षमताओं का उपयोग केवल अपनी समृद्धि और सुरक्षा के लिए ही नहीं करेगा। बल्कि इस क्षेत्र के अन्य देशों की क्षमता के विकास में, आपदाओं में उनकी सहायता के लिए, तथा सभी देशों की साझा सुरक्षा, संपन्नता और उज्ज्वल भविष्य के लिए करेगा।

 

यह भी पढ़ें: पिता के साथ सो रही 5 साल की मासूम को किया किडनैप, रेप के बाद पत्थर से कुचल कर हत्या

 

बोले- हमें गर्व है कि भारत हर मुश्किल में आपके साथ रहा 

उन्होंने आगे कहा कि भारत के लिए मालदीव से बड़ा कोई भागीदार नहीं। अच्छे-बुरे वक्त में आपसी विश्वास को हम और पुख्ता करेंगे। भारत ने अपनी उपलब्धियों को पड़ोसियों से साझा किया। पीएम मोदी ने कहा, यह सदन, ईंट-पत्थर से बनी सिर्फ एक इमारत नहीं है। यह लोकतंत्र की वो ऊर्जा भूमि है जहां देश की धड़कने आपके विचारों और आवाज़ में गूंजती है। मालदीव में स्वतंत्रता, लोकतन्त्र, खुशहाली और शान्ति के समर्थन में भारत मालदीव के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा रहा है। चाहे वह 1988 की घटना हो, या 2004 की Tsunami या फिर हाल का पानी-संकट। हमें गर्व है कि भारत हर मुश्किल में, आपके हर प्रयास में हर घड़ी हर कदम आपके साथ चला है। पीएम मोदी ने कहा, भारत और मालदीव के संबंध इतिहास से भी पुराने हैं। सागर की लहरें हम दोनों देशों के तटों को पखार रही हैं। ये लहरें हमारे लोगों के बीच मित्रता का संदेश-वाहक रही हैं। हमारी संस्कृति इन तरंगों की शक्ति लेकर फली-फूली हैं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है