Covid-19 Update

59,059
मामले (हिमाचल)
57,473
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,204,179
मामले (भारत)
116,873,133
मामले (दुनिया)

Modi @उड़ानः अब चप्पल वाला भी उड़ेगा Plane में

Modi @उड़ानः अब चप्पल वाला भी उड़ेगा Plane में

- Advertisement -

Udan: शिमला। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश का गरीब चप्पल पहनता है, मैं चाहता था कि हवाई चप्पल वाला व्यक्ति हवाई जहाज में बैठे। आज वो बात सच हो रही है और अब चप्पल वाला भी हवाई जहाज में बैठेगा। पीएम ने कुछ देर पहले शिमला के जुब्बड़हट्टी एयरपोर्ट पर उड़ान योजना का शुभारंभ किया। इसके तहत मोदी ने शिमला से दिल्‍ली के बीच चलने वाली फ्लाइट को हरी झंडी दिखाई। इस रूट पर एलाइंस एयर ने टैक्स समेत किराया 2036 रुपए रखा है। बता दें कि इस स्कीम में विंग एयरक्राफ्ट पर 1 घंटे और 500 किलोमीटर के सफर के लिए मैक्सिमम किराया 2500 रुपए तय किया गया है। इसी रेशो में दूसरे रूट्स का किराया भी तय किया जाएगा। इस अवसर पर मोदी ने कहा कि सब उड़े, सब जुड़ें। इस सुविधा से हिमाचल प्रदेश के टूरिज्म को काफी बढ़ावा मिलेगा।

पहले एयरलाइंस में राजा महाराजा ही सफर करते थे, उस समय एयरलाइंस में भी राजा महाराजा का फोटो लगा था। मेरे कहने के बाद उसके लोगो में अटल जी की सरकार के समय आरके लक्ष्मण के कॉमन मैन के लोगो को लगाया गया था। हवाई सेवाएं सस्ती होने से सभी को हवाई सेवाओं का लाभ उटाने का अवसर मिलेगा। मोदी ने कहा हवाई सर्कुलर रूट बनेगा तो सिख यात्री इसका लाभ उठा सकेंगे। हवाई सफर से कई लोगों का समय बचेगा।

इससे पहले जुब्बड़हट्टी एयर पोर्ट पहुंचने पर राज्यपाल आचार्य देवव्रत, सीएम वीरभद्र सिंह और उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों से पीएम की अगवानी की। सीएम वीरभद्र सिंह ने  पीएम मोदी का टोपी व कांगड़ा पेंटिंग देकर स्वागत किया।  इस अवसर पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा, नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल व बीजेपी के वरिष्ठ नेता उपस्थित रहे।

हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज का शिलान्यास भी किया

पीएम मोदी ने इसके बाद बिलासपुर के बंदला गांव में खुलने वाले देश के पहले हाइड्रो इंजीनियरिंग कॉलेज का शिलान्यास भी किया। बंदला में इस कॉलेज के खुलने से जल विद्युत के क्षेत्र में विशेषज्ञता वाले इंजीनियर तैयार होंगे जिससे उद्योगों, विशेषकर जल विद्युत परियोजनाओं में इंजीनियरों की मांग को पूरा किया जा सकेगा। राज्य सरकार ने इस कॉलेज के लिए अन्तरराष्ट्रीय स्तर के सार्वजनिक उद्यमियों एनटीपीसी तथा एनएचपीसी का सहयोग प्राप्त करने की पहल की है। इस कॉलेज में मैकेनिकल, सिविल, इलेक्ट्रिकल तथा कंप्यूटर साइंस आदि चार संकाय होंगे, जिसके आरम्भ होने से प्रदेश के युवाओं को उनके घर-द्वार पर हाइड्रो इंजीनियरिंग की शिक्षा सुलभ होने के साथ-साथ रोजगार एवं स्वरोजगार के अवसर भी उपलब्ध होंगे।

सस्ती ‘उड़ान’ सेवा शुरू, Modi ने किया शुभारंभ

Modi पहुंचे चंडीगढ़, Airport पर सोलंकी, खट्टर ने की आगवानी

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है