Covid-19 Update

58,607
मामले (हिमाचल)
57,331
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,096,731
मामले (भारत)
114,379,825
मामले (दुनिया)

परिवर्तन रैलीः एक तीर से कई निशाने साध गए Modi

परिवर्तन रैलीः एक तीर से कई निशाने साध गए Modi

- Advertisement -

Modi Rally Shimla : शिमला। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का शिमला दौरा कई मायनों में खास रहा है। विकास के साथ-साथ चुनाव भी उनके एजेंडे में था और उसी पर पीएम का फोक्स भी। मोदी की कालेधन वालों और भ्रष्टाचारियों को यहां से ललकार भी रही और हिमाचल में बिताए गए समय को याद करते हुए उन्होंने अपनापन भी जताया।

  • कालेधन-भ्रष्टाचार के साथ-साथ चुनावी एंजेडे पर भी रखा फोक्स

यही नहीं मोदी ने हिमाचल में बीजेपी के प्रभारी के तौर पर यहां बिताए समय के दौरान खाए नमक का हक अदा करने की बात कहकर प्रदेश के लोगों के दिल में भी स्थान बनाया। मोदी ने जिस तरह से विकास और भ्रष्टाचार का जिक्र किया, उससे लगता है कि विधानसभा चुनाव भी इन्हीं मुद्दों पर लड़ा जाएगा और इसकी बिसात बिछ भी चुकी है। पीएम मोदी को सुनने के लिए हजारों लोग यहां जुटे थे। रिज पर पहुंचने के लिए लोगों को कई किमी. का लंबा सफर तय करना पड़ा। राजधानी के चौड़ा मैदान, छोटा शिमला, संजौली-आईजीएमसी मार्ग से लोग रिज तक पहुंच रहे थे, लेकिन लोगों की भारी भीड़ के बीच लोग रास्ते में ही रह गए। माल रोड़, लिफ्ट, डीसी ऑफिस, एजी चौक पर आधे से ज्यादा सड़क पीएम के काफिले के लिए रखी गई थी और बाकी सड़क पर लोग खड़े थे।

रैली के लिए लक्कड़ बाजार की तरफ से आ रहे लोग लाइनों में लगे थे और वहीं खड़े-खड़े उन्होंने पीएम का भाषण सुना, लोअर बाजार, मिडल बाजार भी रैली के लिए आए लोगों से भरा था। रैली में आ रहे लोगों की सुविधा को 8 स्थानों पर स्क्रीन भी लगाई गई थी। रिज , स्कैंडल प्वाइंट, आईएसबीटी, एजी चौक, लक्कड़ बाजार आदि में ये स्क्रीन लगी थी। उधर, बीजेपी के लिए यह रैली कई मायनों में अहम थी। चुनावी वर्ष में और खासकर नगर निगम चुनाव से पहले मोदी का यहां आना बीजेपी को ताकत दे गया। बीजेपी ने शिमला नगर निगम चुनाव को काफी गंभीरता से लिया है और उसे उम्मीद है कि देशभर में चल रही मोदी लहर के बीच वे यहां काबिज हो सकते हैं। यदि बीजेपी यहां काबिज होती है तो उसका लाभ उसे नगर निगम चुनाव में अवश्य मिलेगा और प्रदेश में बीजेपी के पक्ष में माहौल बनेगा। पीएम मोदी की रैली के लिए यहां सुरक्षा व्यवस्था सबसे कड़ी थी। यहां आज तक जितने कार्यक्रम हुए, उसमें यह सबसे तगड़ी सुरक्षा थी और इसका खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ा।

Modi Rally Shimla : लोगों को चंद कदम की दूरी तय करने को भी कई सौ मीटर लंबा रास्ता नापना पड़ा। कई जगह तो लोगों को पगडंडियों से होकर जाना पड़ा। क्योंकि मार्ग को पुलिस ने बंद कर रखा था। सबसे ज्यादा दिक्कत आईजीएमसी अस्पताल जाने वाले लोगों को हुई। रिज से लक्कड़ बाजार मार्ग से होकर जाने के लिए लोगों को लंबा रास्ता तय करना पड़ा। उन्हें स्कैंडल प्वाइंट से होकर या फिर लोअर बाजार सुरंग से होकर लक्कड़ बाजार बस अड्डे तक जाना पड़ा और वहां से फिर आईजीएमसी को जाना पड़ा। वहीं कर्मचारियों को भी आज इस कारण परेशानी झेलनी पड़ी। परेशानी उन कर्मचारियों को ज्यादा हुई, जिनके कार्यालय माल रोड, रिज, लक्कड़ बाजार, यूएस क्लब आदि

modi rally shimla

इलाकों में थे।

होटलों में रहे सैलानी

इसके साथ-साथ शिमला घूमने आए सैलानियों को रैली समाप्त होने तक होटलों में ही रहना पड़ा। इसके साथ-साथ दिक्कत स्कूली बच्चों को हुई। सुबह स्कूल को बच्चों को छोड़ने गई टैक्सियों और बस चालकों ने कहा कि छुट्टी के बाद बच्चों को ले जाने के लिए खुद आना पड़ेगा, क्योंकि रैली के कारण यहां जाम लगेगा और मार्ग को कई स्थानों पर एक तरफा किया गया है। इससे अभिभावकों को परेशानी झेलनी पड़ी।

यह तो गनीमत रही कि बारिश नहीं हुई, नहीं तो लोगों को और ज्यादा परेशानी झेलनी पड़ती। रैली स्थल रिज मैदान के लिए जाने वाले सभी मार्गों पर पुलिस ने चैकिंग की थी। इस दौरान सभी लोगों की चैकिंग कीगई और लोगों की जेब में पड़ा गुटका, पानी, बीड़ी आदि निकाला गया और उसे एक जगह एकत्र किया गया। चैकिंग में यह सामग्री भी भारी मात्रा में इकट्ठी की गई।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है