Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,427
मामले (भारत)
200,650,253
मामले (दुनिया)
×

Covid-19 संकट के बीच मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- आपसे जमीनी हकीकत जानने को मिलेगी

Covid-19 संकट के बीच मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- आपसे जमीनी हकीकत जानने को मिलेगी

- Advertisement -

नई दिल्ली। पूरे देश में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के सीएम, उपराज्यपालों और शीर्ष अधिकारियों से बातचीत कर रहे हैं। इस बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी पंजाब, चंडीगढ़, उत्तराखंड, हिमाचल, लद्दाख, झारखंड, छत्तीसगढ़ ,गोवा, केरल, पुडुचेरी,असम, त्रिपुरा, मेघालय, अरुणाचल , मिजोरम, सिक्किम, मणिपुर, नागालैंड , अंडमान-निकोबार , दादर नगर हवेली और दमन दीव ,लक्षद्वीप के सीएम और उपराज्यपाल से एक एक कर बात करेंगे और उन प्रदेशों के हालत का जायजा लेंगे। बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) भी शामिल हैं। देश में कोरोना संकट के बीच पीएम मोदी की मुख्यमंत्रियों के संग यह छठी वीडियों कांफ्रेंसिंग बैठक है।

यह भी पढ़ें: करनाल में तीन युवकों ने एक साथ खाया Poison, दो की गई जान, एक गंभीर

हम कोरोना को जितना रोक पाएंगे, उतना ही हमारी अर्थव्यवस्था खुलेगी

मुख्यमंत्रियों, राज्यपाल और उपराज्यपाल के संग बैठक में पीएम मोदी ने कहा कि अनलॉक 1 के बाद दो सप्ताह बीत चुके हैं, इस दौरान हमारा अनुभव भविष्य में हमारे लिए फायदेमंद हो सकता है। आज मुझे आपसे जमीनी हकीकत जानने को मिलेगी, आपके सुझावों से भविष्य की रणनीति का पता लगाने में मदद मिलेगी। पीएम मोदी ने कहा कि हमें इस बात का हमेशा ध्यान रखना है कि हम कोरोना को जितना रोक पाएंगे, उसका बढ़ना जितना रोक पाएंगे, उतना ही हमारी अर्थव्यवस्था खुलेगी, हमारे दफ्तर खुलेंगे, मार्केट खुलेंगे, ट्रांसपोर्ट के साधन खुलेंगे, और उतने ही रोजगार के नए अवसर भी बनेंगे। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस से हुई किसी की भी मौत असहज करने वाली है।

यह भी पढ़ें: 26 सितंबर से होगा IPL का आयोजन! मोहम्मद अजहरुद्दीन ने भी जताई उम्मीद

भारत दुनिया के उन देशों में अग्रणी है जहां कोरोना के मरीजों का जीवन बच रहा

पीएम मोदी ने कहा कि भविष्य में जब कभी भारत की कोरोना के खिलाफ लड़ाई का अध्ययन होगा, तो ये दौर इसलिए भी याद किया जाएगा कि कैसे इस दौरान हमने साथ मिलकर काम किया, Co-operative Federalism का सर्वोत्तम उदाहरण प्रस्तुत किया। पीएम मोदी ने कहा कि दुनिया के बड़े-बड़े एक्सपर्ट्स, हेल्थ के जानकार, लॉकडाउन और भारत के लोगों द्वारा दिखाए गए अनुशासन की आज चर्चा कर रहे हैं। आज भारत में रिकवरी रेट 50 प्रतिशत से ऊपर है। आज भारत दुनिया के उन देशों में अग्रणी है जहां कोरोना संक्रमित मरीजों का जीवन बच रहा है। उन्होंने कहा कि हमें इस बात का हमेशा ध्यान रखना है कि हम कोरोना को जितना रोक पाएंगे, उसका बढ़ना जितना रोक पाएंगे। उतना ही हमारी अर्थव्यवस्था खुलेगी, हमारे दफ्तर खुलेंगे, मार्केट खुलेंगे, ट्रांसपोर्ट के साधन खुलेंगे, और उतने ही रोजगार के नए अवसर भी बनेंगे।

यह भी पढ़ें: तमिलनाडु में Covid-19 संक्रमण तेज: चेन्नई व 3 ज़िलों के कुछ हिस्सों में 19-30 जून तक Lockdown

हाल में जो रिफॉर्म्स किए गए हैं, उससे किसानों को बहुत लाभ होगा

मोदी ने कहा कि हमारे यहां जो छोटी फैक्ट्रियां हैं उन्हें गाइडेंस की, हैंड होल्डिंग की बड़ी जरूरत है। मुझे पता है आपके नेतृत्व में इस दिशा में काफी काम हो रहा है। पीएम ने कहा कि ट्रेड और इंडस्ट्री अपनी पुरानी रफ्तार पकड़ सकें, इसके लिए वैल्यू चैंस पर भी हमें मिलकर काम करना होगा। उन्होंने आगे कहा कि किसान के उत्पाद की मार्केटिंग के क्षेत्र में हाल में जो रिफॉर्म्स किए गए हैं, उससे भी किसानों को बहुत लाभ होगा। इससे किसानों को अपनी उपज बेचने के लिए नए विकल्प उपलब्ध होंगे, उनकी आय बढ़ेगी और स्टोरेज के अभाव के कारण उनको जो नुकसान होता था, उसे भी हम कम कर पाएंगे। बक़ौल पीएम मोदी, ‘लोकल प्रोडक्ट के लिए जिस क्लस्टर बेस्ड रणनीति की घोषणा की गई है, उसका भी लाभ हर राज्य को होगा। इसके लिए जरूरी है कि हम हर ब्लॉक, हर जिले में ऐसे प्रोडक्ट्स की पहचान करें, जिनकी प्रोसेसिंग और मार्केटिंग करके, एक बेहतर प्रोडक्ट हम देश और दुनिया के बाज़ार में उतार सकते हैं।’

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है