Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

Delhi Violence: PM नरेंद्र मोदी ने तोड़ी चुप्पी, सोनिया ने मांग शाह का इस्तीफा

Delhi Violence: PM नरेंद्र मोदी ने तोड़ी चुप्पी, सोनिया ने मांग शाह का इस्तीफा

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश के राजधानी दिल्ली (Delhi) में हिंसा (Violence) का दौर जारी है। पिछले तीन दिनों से जारी इस हिंसा में अबतक कुल 20 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। राजनीतिक बयानों से शुरू हुई यह हिंसा अब एक बार फिर राजनीति के पाले में ही जाते दिखाई दे रही है। दरअसल इस सारे मसले को लेकर देश के नेताओं के बीच बयानबाजी का सिलसिला शुरू हो गया है। इसी फेहरिस्त में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की दो दिवसीय भारत यात्रा के दौरान इस मसले पर खामोश रहने वाले पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने भी अब चुप्पी तोड़ दी है। वहीं देश के प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस की अंतिरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने भी इस मसले पर केंद्र सरकार के खिलाफ करार हमला बोल है। इस बीच खबर मिली है कि दिल्ली के उत्तर-पूर्वी इलाके में नागरिकता संशोधन कानून को लेकर फैली हिंसा को रोकने की जिम्मेदारी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल (Ajit Doval) को दी गई है। इसके साथ ही हालात पर काबू पाने के लिए दिल्ली पुलिस को पूरी छूट दी गई है।

यह भी पढ़ें: एक ही समय नियुक्त हुए JBT Teachers को मिल रहा अलग-अलग वेतन, विभाग को नोटिस

जानें क्या बोले पीएम मोदी

दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में हिंसा भड़कने के चार दिन बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने इस मसले पर ट्वीट किया है। पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘दिल्ली के विभिन्न हिस्सों में व्याप्त स्थिति पर व्यापक समीक्षा की गई। पुलिस और अन्य एजेंसियां शांति और सामान्य स्थिति सुनिश्चित करने के लिए जमीन पर काम कर रही हैं। शांति और सद्भाव की कोशिशें जारी हैं। मैं दिल्ली की अपनी बहनों और भाइयों से हर समय शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील करता हूं। यह महत्वपूर्ण है कि शांत हो और सामान्य स्थिति जल्द से जल्द बहाल हो।’\

सोनिया गांधी ने मांग गृह मंत्री का इस्तीफा

कांग्रेस कि अंतिरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली में रविवार से जारी हिंसा के मसले पर केंद्र सरकार को घेरा है। मंगलवार को दिल्ली स्थित कांग्रेस मुख्यालय में हुई कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में हिंसा के दौरान मरने वाले लोगों को श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए सोनिया गांधी ने केंद्र के खिलाफ बाद हमला बोला। सोनिया गांधी ने कहा कि दिल्ली की मौजूदा हालात चिंताजनक है। एक साजिश के तहत हालात बिगड़े। बीजेपी नेताओं ने भड़काऊ भाषण दिए। चुनाव के दौरान नफरत फैलाया। दिल्ली की स्थिति के लिए केंद्र सरकार और गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) जिम्मेदार हैं। गृह मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए। इस दौरान सोनिया ने हिंसा को लेकर ढेरों सवाल भी खड़े किए।

जावड़ेकर ने दिया सोनिया को जवाब

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी के आरोपों का जवाब देते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने कहा कि दिल्ली के हालात पर कांग्रेस राजनीति कर रही है। कांग्रेस के आरोपों से पुलिस का मनोबल गिरता है। गृह मंत्री अमित शाह ने सभी दलों के साथ बैठक की। सरकार पर दोष लगाना गंदी राजनीति है। वहीं सोनिया के सवालों पर जावड़ेकर ने कहा कि वे पूछ रहे हैं कि गृह मंत्री कहां थे? गृह मंत्री पहले दिन से हालात को काबू पर पाने के लिए काम कर रहे हैं। हालात संभालने में लगे हैं। गृह मंत्री जहां भी रहते हैं, वह अपना काम करते हैं। सिख दंगों से जिनके हाथ रंगे हुए हैं, वो सवाल पूछ रहे हैं। कौन कहां है ये नहीं पूछेंगे क्योंकि फिर लोग पूछेंगे कि बाबा कहां हैं?

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है