Covid-19 Update

1,37,766
मामले (हिमाचल)
1,02,285
मरीज ठीक हुए
1965
मौत
22,992,517
मामले (भारत)
159,607,702
मामले (दुनिया)
×

24 घंटे में कोरोना के दो लाख से भी ज्यादा मामले, PM Modi ने की कुंभ मेला समाप्त करने की अपील

देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2,34,692 नए मामले, 1,341 की मौत

24 घंटे में कोरोना के दो लाख से भी ज्यादा मामले, PM Modi ने की कुंभ मेला समाप्त करने की अपील

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश में कोरोना का कहर बढ़ता ही जा रहा है। हर दिन कोरोना के दो लाख से ज्यादा नए मरीज मिल रहे हैं। कोरोना संक्रमण का प्रकोप बढ़ने के साथ ही देश में अस्पतालों की हालत बेहद खराब हो गई। देश में वेंटिलेटर, रेमडेसिविर और ऑक्सीजन की किल्लत के बीच अब पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कुंभ मेले को लेकर अपनी चुप्पी तोड़ी है। पीएम मोदी ने आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि से फोन पर बात कर कुंभ मेले को समाप्त करने की अपील की। पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार सुबह ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।


यह भी पढ़ें :- कुंभ में कोरोना पर आपस में भिड़े अखाड़े, बैरागियों ने संन्यासियों को ठहराया जिम्मेदार

पीएम नरेंद्र मोदी ने शनिवार सुबह ट्वीट किया, ”आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि जी से आज फोन पर बात की। सभी संतों के स्वास्थ्य का हाल जाना। सभी संतगण प्रशासन को हर प्रकार का सहयोग कर रहे हैं। मैंने इसके लिए संत जगत का आभार व्यक्त किया। मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं और अब कुंभ (Kumbh Mela) को कोरोना के संकट के चलते प्रतीकात्मक ही रखा जाए। इससे इस संकट से लड़ाई को एक ताकत मिलेगी।”

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 63,729 नए मामले सामने

देशभर में कोरोना के आंकड़ों (Corona cases) की बात करें तो ये डराने वाले हैं। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 2,34,692 नए मामले सामने आए हैं और 1,341 लोगों की मौत हुई है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 63,729 नए मामले सामने आए हैं और उत्तर प्रदेश में 27,360 नए केस। दिल्ली में 19,486 नए मामले रिपोर्ट किए गए हैं। जबकि छत्तीसगढ़ में 14,912 नए मामले और कर्नाटक में 14,859 नए मामले सामने आए हैं। इन पांच राज्यों में सबसे ज्यादा मामले रिपोर्ट किए गए हैं। कुल नए मामलों में से 59.79 प्रतिशत मामले इन पांच राज्यों से ही हैं। अकेले महाराष्ट्र से 27.15 प्रतिशत नए मामले सामने आए हैं। सबसे ज्यादा नई मौतें महाराष्ट्र में हुई हैं जहां 398 लोगों की जान गई है जबकि दिल्ली में 141 लोगों ने दम तोड़ा है।

यह भी पढ़ें :-  हवा में तेजी से फैलता है कोरोना,सबूतों के साथ लैंसेट का दावा

देश में कोरोना संक्रमण के रिकॉर्ड सवा दो लाख से अधिक नए मामले सामने आने के बीच सरकार महामारी को थामने के लिए चौतरफा तैयारी में जुट गई है। दिन पर दिन गंभीर होते संकट से निपटने के लिए हर कदम मजबूती के साथ उठाए जा रहे हैं। ऑक्सीजन (Oxygen) की उपलब्धता और अबाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के उपाय किए जा रहे हैं। टीकाकरण अभियान में तेजी लाने के लिए वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाया जा रहा है साथ ही एंटी वायरल इंजेक्शन रेमडेसिविर की उत्पादन क्षमता को बढ़ाने के लिए भी हर कदम उठाए जा रहे हैं। सभी राज्यों, खासकर कोरोना महामारी से गंभीर रूप से प्रभावित 12 राज्यों के बीच ऑक्सीजन की बिना रुकावट आपूर्ति को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को उच्च स्तरीय बैठक की थी। इसमें स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से विभिन्न राज्यों से ऑक्सीजन की मांग, सप्लाई चेन, उत्पादन क्षमता और उपलब्धता बढ़ाने की कोशिशों के बारे में विस्तृत ब्योरा पेश किया गया। पीएम ने सभी संबंधित मंत्रालयों और राज्य सरकारों के बीच बेहतर तालमेल पर जोर दिया। उन्होंने ऑक्सीजन की उत्पादन क्षमता का पूर्ण इस्तेमाल करने और आपूर्ति में आने वाली हर तरह की बाधाओं को दूर करने के निर्देश दिए। गंभीर रूप से प्रभावित राज्य हैं- महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, राजस्थान, हरियाणा और पंजाब। पीएम के साथ बैठक के बाद गृहसचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र लिखकर ऑक्सीजन की आवाजाही पर किसी प्रकार का प्रतिबंध नहीं लगाने की हिदायत दी है।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के हॉस्टल्स को कोरोना वार्ड में बदलने की तैयारी

उत्तर प्रदेश में जिस तेजी से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं उसको ध्यान में रखते हुए अब निर्णायक फैसले लिए जा रहे हैं। कई स्थानों को कोविड सेंटर (Covid Center) में तब्दील की तैयारी चल रही है। लखनऊ में भी 1000 बेड वाला अस्पताल बनाने का फैसला लिया गया है। खबर है कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय के हॉस्टल्स को कोरोना वार्ड में बदलने की तैयारी है। कुलपति के निर्देश पर डीएसडब्ल्यू को पत्र भेजकर हॉस्टल खाली कराने को कहा गया है। जारी किए गए पत्र में तमाम छात्रों से अपील की गई है कि वे हॉस्टल को खाली करें। बढ़ते मामलों को देखते हुए विश्विद्यालय को लगता है कि आने वाले दिनों में हॉस्टलों को भी अस्थाई तौर पर अस्पतालों में तब्दील किया जा सकता है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है