Expand

सर्जिकल स्ट्राइक पर सेना से ज्यादा मोदी को मिल रहा क्रेडिट: मायावती

सर्जिकल स्ट्राइक पर सेना से ज्यादा मोदी को मिल रहा क्रेडिट: मायावती

- Advertisement -

नई दिल्ली। रामलीला मैदान के आसपास जो बड़े-बड़े पोस्टर बैनर और होर्डिंग लगाए गए थे, वह सर्जिकल स्ट्राइक की सफलता के लिए सेना की बजाय मोदी को ही ज्यादा क्रेडिट दे रहे थे। यह कहना है बहुजन समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मायावती का। मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लखनऊ की रामलीला में शामिल होने कोmodi

  • चुनावी स्वार्थ से प्रेरित बताया
  • मामलीला में शामिल होना नई परंपरा की शुरुआत
  • महज राजनीति व चुनावी स्वार्थ वाला कदम

मायावती का कहना है कि इस मौके पर मोदी ने आतंकवाद को खत्म करने के लिए जो जटायु और श्रीराम के बारे में कहा, वह तो ठीक है। मगर आतंकी कैंपो पर सर्जिकल स्ट्राइक करने पर सेना की तारीफ न करना दुखद बात है। युद्ध से बुद्ध के रास्ते पर जाने के प्रधानमंत्री के बयान पर मायावती का कहना है कि युद्ध से बुद्ध के रास्ते को जाने की बजाय बेहतर होगा कि अपना देश व पूरी दुनिया पहले ही बुद्ध के रास्तों पर चलने का सही प्रयास करें। ताकि फिर युद्ध की जरूरत ना पड़े। गौतम बुद्ध का संदेश संपूर्ण मानवता के लिए है। उसी के हिसाब से ही कर्म करने की जरूरत है। केवल उपदेशों से देश व समाज की तकदीर बदलने वाली नहीं है।

मायावती का यह भी कहना था कि मोदी ने जो अपने भाषण में अनेकों सामाजिक बुराईयां गिनाकर उन्हें समाप्त करने की अपील की थी, उस अपील मात्र से काम नहीं चलेगा। समाजिक बुराइयों से लड़ने के लिएmodi-12-10-2016-1476240673_storyimage

  • सिर्फ उपदेश नहीं
  • सरकार को कुछ करके दिखाना होगा

बल्कि इसके लिए केंद्र की सरकार के साथ साथ बीजेपी शासित राज्यों को इससे जुड़े कानूनों को और सख्ती से अमल करना होगा, जो फिलहाल कहीं दिखाई नहीं दे रहा है। मायावतू ने कहा, मोदी इन सब को लेकर जुमलेबाजी करते हैं। इन सब के लिए बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर के बताए रास्ते पर चलना होगा। बसपा सुप्रीमो का कहना है कि मोदी रामलीला में शामिल होकर जो राजनीतिक संदेश देना चाहते थे, वह इससे स्पष्ट था कि रामलीला मैदान के आसपास जो बड़े-बड़े पोस्टर बैनर और होर्डिंग लगाए गए थे, वह सर्जिकल स्ट्राइक की सफलता के लिए सेना की बजाय उन्हें ही ज्यादा क्रेडिट दे रहे थे। जो एकदम गलत है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है