Covid-19 Update

1,98,361
मामले (हिमाचल)
1,90,296
मरीज ठीक हुए
3,369
मौत
29,439,989
मामले (भारत)
176,417,357
मामले (दुनिया)
×

PM Modi ने कोरोना को बताया World War जैसा संकट, स्वास्थ्यकर्मी बिना वर्दी के सैनिक

PM Modi ने कोरोना को बताया World War जैसा संकट, स्वास्थ्यकर्मी बिना वर्दी के सैनिक

- Advertisement -

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने आज कोरोना संकट पर चिंता जाहिर की। पीएम मोदी ने सोमवार को कर्नाटक के राजीव गांधी स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के रजत जयंती समारोह का उद्घाटन करने के बाद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कहा कि दूसरे विश्व युद्ध के बाद आज सबसे बड़ा संकट आया है। जैसे विश्व युद्ध के बाद दुनिया बदल गई वैसे ही कोरोना के बाद दुनिया पूरी तरह से बदल जाएगी। पीएम नरेंद्र मोदी ने डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों (Health workers) को बिना वर्दी का सैनिक बताया है। उन्होंने उम्मीद जताई कि कोरोना के खिलाफ जंग में भारत जरूर जीतेगा। मोदी ने स्वास्थ्यकर्मियों पर हो रहे हमलों को लेकर चेतावनी भी दी। पीएम मोदी ने कहा कि मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि महामारी की इस घड़ी में प्रथम पंक्ति में खड़े होकर वायरस से लड़ रहे स्वास्थ्यकर्मियों के साथ हिंसा या किसी भी तरीके का दुर्व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: एक हफ्ते के लिए सील रहेंगे Delhi के बॉर्डर, बाजार में सभी Shops रहेंगी खुली

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा –

  • कोविड-19 वायरस अदृश्य दुश्मन है लेकिन हमारे अपराजेय मेडिकल वर्कर उसे मात देंगे। पहले वैश्विकरण को लेकर आर्थिक मसले पर चर्चा होती थी, लेकिन अब मानवता के आधार पर चर्चा करना जरूरी होगा। स्वास्थ्य के मामले में भारत ने पिछले 6 साल में बड़े फैसले लिए हैं, हम चार पिलर पर काम कर रहे हैं।
  • आज स्वास्थ्यकर्मी एक सैनिक की तरह काम कर रहे हैं और देश के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। कोरोना वायरस नहीं दिखता है, लेकिन कोरोना वॉरियर्स की मेहनत आज दिख रही है। पीएम ने कहा कि दुनियाभर की निगाहें आज भारत के डॉक्टरों पर टिकी हैं।
  • देश में स्वास्थ्यकर्मियों के साथ हो रही हिंसक घटनाएं बर्दाश्त नहीं की जाएंगी, जो भी ऐसा करेगा उसके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। इसके अलावा सरकार की ओर से स्वास्थ्यकर्मियों के लिए इंश्योरेंस की सुविधा दी गई है
  • मेक इन इंडिया के तहत स्वास्थ्य सुविधाओं को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि आज देश में पीपीई किट, N-95 मास्क बन चुके हैं और सब मेड इन इंडिया हैं। देश में आरोग्य सेतु ऐप बनाया गया है और अब तक 12 करोड़ लोग इसे डाउनलोड कर चुके हैं।
  • उन्होंने कहा कि 22 और AIIMS खुल चुके हैं और भारत इस दिशा में तेजी से काम कर रहा है। पिछले पांच साल में देश में एमबीबीएस की 30 हजार सीटें बढ़ गई हैं और पोस्ट ग्रेजुएशन की सीटों में 15 हजार की बढ़ोतरी हुई है। मिशन इंद्रधनुष, आयुष्मान भारत समेत कई अहम योजनाओं ने देश के स्वास्थ्य सिस्टम में एक नई जान फूंकी है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है