Expand

एचपीयू की फर्जी डिग्रियां बेचते थे आरोपी, पुलिस ने जाल बिछाकर रंगे हाथ दबोचा

20 से 25 हजार रुपए में करते थे सौदा

एचपीयू की फर्जी डिग्रियां बेचते थे आरोपी, पुलिस ने जाल बिछाकर रंगे हाथ दबोचा

- Advertisement -

शिमला। पुलिस ने एचपीयू की फर्जी डिग्रियां बेचने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ कर तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। ये लोग 20 से 25 हजार रुपए में फर्जी डिग्री, मार्कशीट, सर्टिफिकेट और डिप्लोमा बेचते थे। पुलिस ने तीनों आरोपियों से मौके पर एचपीयू की ग्रेजुएशन और पोस्ट ग्रेजुएशन की तीन फ़र्ज़ी डिग्रियां भी बरामद कीं।


जानकारी के अनुसार पुलिस को नाहन के एक वकील ने सूचित किया था कि शिमला में कुछ शातिर मोटी रकम ऐंठ कर जाली डिग्रियां बेचने का काम कर हैं। इस पर पुलिस ने आरोपियों को पकड़ने के लिए जाल बिछाया और ग्राहक बनकर तीन आरोपियों को बीती रात दस बजे लिफ्ट के पास दबोचा लिया। पकड़े गए आरोपियों की पहचान जय देव, सुनील और सौरभ के रूप में हुई है और ये तीनों ठियोग के बड़ोग गांव के रहने वाले हैं।

दरअसल नाहन के वकील के एक रिश्तेदार को इन आरोपियों ने एचपीयू की डिग्रियां देने का झांसा दिया था। मामले के अनुसार एक आरोपी ने खुद को एचपीयू का कर्मचारी बताया और 20 से 25 हज़ार में डिग्रियां दिलाने का भरोसा दिया तथा पैसे लेकर मिलने के लिए शिमला बुलाया। इस पर शिकायतकर्ता का माथा ठनका और जब एचपीयू प्रशासन से संपर्क किया गया तो खुलासा हुआ कि डिग्री दिलाने वाला आरोपी एचपीयू में कार्यरत ही नहीं हैं। इसके बाद मामला की सूचना पुलिस को दी गई और पुलिस ने तीनों को गिरफ्तार कर लिया। डीएसपी हेड क्वार्टर प्रमोद शुक्ला ने बताया कि इस संबंध में आईपीसी की धारा 420 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है और आरोपियों को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करे

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है