Covid-19 Update

59,197
मामले (हिमाचल)
57,580
मरीज ठीक हुए
987
मौत
11,244,092
मामले (भारत)
117,591,889
मामले (दुनिया)

रेप पीड़िता से इंस्पेक्टर ने कहा – मेरे साथ भी संबंध बनाओ, फिर कर दिया रेप

रेप पीड़िता से इंस्पेक्टर ने कहा – मेरे साथ भी संबंध बनाओ, फिर कर दिया रेप

- Advertisement -

भिवंडी। देश में महिलाओं की सुरक्षा के लिए कानून बनाए जा रहे हैं, पुलिस को मुस्तैद किया जा रहा है। लेकिन ताजा मामले में रक्षक ने ही भक्षक का रूप ले लिया।मिली जानकारी के मुताबिक एक 34 साल के पुलिस इंस्पेक्टर पर रेप पीड़िता (23)) के साथ पिछले एक साल से ब्लैकमेल कर रेप करने का आरोप लगा है। पीड़िता द्वारा बताया गया जब उसने रेप के आरोप से अपने बॉयफ्रेंड सतीश (28) का नाम हटाने की मांग की तब इंस्पेक्टर ने उसे अपने साथ संबंध बनाने का ऑफर दिया था। जिसके बाद उसे कल्याण के एक लॉज में ले जाकर उसके साथ रेप किया।

प्रेमी की एक्स-गर्लगर्लफ्रेंड ने कराया दोस्त से रेप

मिली जानकारी के मुताबिक साल 2015 में सामने आए एक मामले में महिला सतीश नामक एक मोबाइल विक्रेता की दोस्त बन गई थी। जिसने उसके साथ शादी करने का वादा कर शारीरिक संबंध बनाए थे। जिसके कुछ दिनों बाद उसे पता चला कि सतीश शादीशुदा है और दो बच्चों का बाप है तो उसने उससे दूरी बना ली, लेकिन दोबारा सतीश ने बहला-फुसलाकर संबंध बनाए रखा।इस दौरान सतीश ने 2015-18 के बीच उसका दो बार गर्भपात भी कराया। इसके बाद जब सतीश की पुरानी गर्लफ्रेंड राबिया को दोनों के रिश्ते के बारे में पता चला तो उसने पीड़िता को नशीला पदार्थ अपने सलीम करवी नामक दोस्त से उसका रेप करवा दिया।

इस मजबूरी का फायदा उठाकर पुलिसवाले ने किया रेप

इस दौरान राबिया ने रेप का विडियो बना लिया और महिला को ब्लैकमेल करना शुरू किया और उससे 50,000 रुपए मांगे। जिसके बाद उसने रेप का मामला दर्ज कराया।पुलिस ने मामला दर्ज कर जब सतीश को गिरफ्तार कर लिया, तब वह अपने बयान से पलट गई और सतीश का नाम मामले से हटाने के लिए पुलिस के पास गुहार लगाने लगी। उसकी इसी मजबूरी का फायदा उठाकर पुलिसवाले ने भी उसके साथ रेप कर दिया। मामले का खुलासा होने के बाद से पुलिस इंसपेक्टर फरार चल रहा है। पुलिस ने आरोपी इंसपेक्टर के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 के तहत मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है