Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

नशाखोरी के साथ-साथ छह अहम मुद्दों पर काम करेगी Police टीमें

नशाखोरी के साथ-साथ छह अहम मुद्दों पर काम करेगी Police टीमें

- Advertisement -

Police Meeting Against Terrorism : शिमला। आतंकवाद, नशाखोरी समेत कई मुद्दों के खात्मे पर मंथन को आज उत्तरी भारत के राज्यों के उच्च पुलिस अफसर और पैरा मिलिटरी फोर्स के अधिकारी शिमला में जुटे। इन अफसरों ने इन मुद्दों पर मिलकर लड़ने की रणनीति बनाई और इनसे निपटने में कहां-कहां पर क्या दिक्कतें आ रही हैं उन्हें दूर करने पर चर्चा की। जम्मू-कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल, उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, दिल्ली और चंडीगढ़ के वरिष्ठ पुलिस अफसरों के साथ-साथ इस बैठक में सीआरपीएफ, बीएसएफ, आईटीबीपी, सीआईएसएफ एनसीबी, सीआईए, एनआईए आदि एजेंसियों के अधिकारी भी मौजूद थे।

शिमला में जुटे उत्तर भारत के पुलिस अफसर

नार्दन रीजन पुलिस को-ऑर्डिनेशन कमेटी की यहां हुई बैठक में कुल मिलाकर 6 मुद्दों पर चर्चा हुई। इस बैठक में आतंकवाद, सीमापार से हो रही स्मगलिंग, गुप्त सूचनाओं का आदान-प्रदान, आपसी समन्वय समेत कई अन्य मुद्दों पर चर्चा हुई। बैठक में पड़ोसी राज्य जम्मू-कश्मीर में चल रही आतंकी घटनाओं के मद्देनजर सभी उत्तरी राज्यों को सतर्क रहने की जरूरत है। क्योंकि हिमाचल समेत कई राज्यों में बम विस्फोट की घटनाएं हो चुकी हैं। इसके साथ-साथ आजकल बढ़ रही ऑनलाइन ठगी के बढ़ रहे मामलों पर भी चर्चा की गई और इससे निपटने को कैसे नवीन तकनीक का इस्तेमाल किया जा सकता है, उस पर विशेषज्ञों ने अपनी बात रखी।


ड्रग्स को मिटाने की तैयारी

बैठक में ड्रग्स के लगातार फैल रहे जाल पर भी चर्चा की गई। इस दौरान चर्चा की गई कि कैसे इसे खत्म किया जा सके। नशे के कारोबार की दिनोंदिन जड़ें गहरी होती जा रही हैं और इस पर नकेल कसने के लिए सभी राज्यों को मिलकर कदम उठाने होंगे। इसके लिए नशे को जड़ से उखाड़ने की रणनीति बनी और इसके लिए वहां कार्रवाई की जरूरत जताई गई, जहां से इसकी शुरूआत होती है, यानी जहां यह तैयार होता है, वहीं पर इसके खिलाफ सख्ती से कदम उठाए जाएं। इस दौरान सीमा पार से हो रही ड्रग्स की तस्करी का मुद्दा उठा और कहा गया कि सीमा के साथ लगते इलाकों में चौकसी बढ़ाई जाए। बैठक में आतंकवाद और नशाखोरी और ऑनलाइन ठगी के मामलों में मिलकर कार्रवाई के लिए संयुक्त अभियान पर जोर दिया गया। 

पहली उड़ान में शिमला से दिल्ली जाएंगे अनाथालय के दो छात्र

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है