Covid-19 Update

2,06,369
मामले (हिमाचल)
2,01,520
मरीज ठीक हुए
3,506
मौत
31,726,507
मामले (भारत)
199,611,794
मामले (दुनिया)
×

नाबालिग को चार बार बेचा, आठ साल तक कई बार हुआ Gangrape

नाबालिग को चार बार बेचा, आठ साल तक कई बार हुआ Gangrape

- Advertisement -

यमुनानगर। हरियाणा में मानव तस्करी (Human trafficking) के एक गिरोह का पर्दाफाश हुआ है। पुलिस ने एक नाबालिग लड़की को रेस्क्यू किया है जिसकी कहानी सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे। महाराष्ट्र से तस्करी कर लाई गई एक गरीब नाबालिग को 4 बार अलग-अलग तस्करों और लोगों के हाथों बेचा गया। इतना ही नहीं इन दरिंदों ने इस दौरान एक या दो बार नहीं, बल्कि कई बार उससे गैंगरेप किया। नाबालिग (Minor) को एक एनजीओ की मदद से उस वक्त बचाया गया जब उसे पांचवीं बार बेचने की तैयारी चल रही थी।

यह भी पढ़ें-यहां लड़कियों को किडनेप कर जबरदस्ती की जाती है शादी, विरोध करने पर मिलती है मौत

जानकारी के मुताबिक उस नाबालिग को महाराष्ट्र (Maharashtra) से अगवा कर बीते 8 साल में चार बार बेचा गया और दर्जनों लोगों ने उसके साथ रेप और गैंगरेप किया। गैंगरेप की वजह से गर्भवती हो जाने के बाद भी दरिंदों ने उसे नहीं छोड़ा और फिर भी उसका बलात्कार करते रहे। पीड़िता ने एक लड़के और एक लड़की को भी जन्म दिया है और उसके बाद उसे फिर से बेचने की तैयारी चल रही थी।


यह मामला उस वक्त सामने आया जब हरियाणा (Haryana) के यमुनानगर में एक मकान मालिक ने अपने ही मकान में रहने वाली एक औरत को नाबालिग की खरीद-फरोख्त करने की बात सुनी। जिस महिला को उन्होंने यह बात करते हुए सुना था वो मानव तस्करी में पहले भी शामिल रही थी और उसका नाम सुनीता शूटर है। वह ऐसे ही एक मामले में पहले भी जेल जा चुकी है। मकान मालिक ने जब नाबालिग को बेचे जाने की बात सुनी तो उन्होंने फौरन इसकी सूचना ‘आई एम ए ब्लड डोनर’ नाम के एक स्थानीय एनजीओ को दी। एनजीओ के लोग वहां पुलिस के साथ पहुंचे और उस नाबालिग की काउंसलिंग की जिसके बाद उसने बीते 8 साल में खुद पर बीती जुल्म की दास्तान सुनाई।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है