Covid-19 Update

2,16,813
मामले (हिमाचल)
2,11,554
मरीज ठीक हुए
3,633
मौत
33,448,163
मामले (भारत)
229,050,821
मामले (दुनिया)

घर लौट रहे पैदल मजदूरों को रोका तो फूटा गुस्सा, Saharanpur-Ambala Highway जाम

घर लौट रहे पैदल मजदूरों को रोका तो फूटा गुस्सा, Saharanpur-Ambala Highway जाम

- Advertisement -

सहारनपुर। उत्तर प्रदेश के औरेया में हुए सड़क हादसे के बाद राज्य सरकार ने सख्ती बढ़ा दी है। मान्य पास के बिना किसी को भी उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में प्रवेश की अनुमति नहीं है। रविवार सुबह से राज्य में दाखिल होने के लिए सैंकड़ों की संख्या में मजदूर गाजीपुर बॉर्डर पर मौजूद है, लेकिन पुलिस ने उन्हें वहीं पर रोक दिया। यूपी के सहारनपुर में घर लौट रहे पैदल मजदूरों ने हंगामा शुरू कर दिया है। ये सभी अपने घर बिहार वापस जाना चाहते हैं, लेकिन पुलिस वाले इन्हें रोक रहे हैं। इसी वजह से मजदूरों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी और अंबाला हाई-वे (Saharanpur-Ambala Highway) जाम कर दिया। मजदूरों ने पुलिस प्रशासन से मांग की है कि या तो उन्हें आगे बढ़ने दिया जाए या फिर उनकी वापसी के लिए ट्रेन की व्यवस्था की जाए तह तक वे यहीं जमे रहेंगे, वापस नहीं लौटेंगे।

यह भी पढ़ें: Breaking : उहल विद्युत प्रोजेक्ट के Power House में फटा पैन स्टॉक

 

मजदूरों और पुलिस के बीच टकराव की आशंका बढ़ी

सहारनपुर-अंबाला हाई-वे पर काफी मजदूर इकट्ठा हो गए हैं। सभी बिहार की नीतीश सरकार और केंद्र सरकार (Central government) के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं। फिलहाल माहौल तनावपूर्ण हो गया है जिसके बाद वहां पर भारी फोर्स की तैनाती कर दी गई है। ताजा हालात देखते हुए वहां पर मजदूरों और पुलिस के बीच टकराव की आशंका काफी बढ़ गई है। बता दें, उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में शनिवार को हुए भीषण सड़क हादसे के बाद सीएम योगी ने एक बार फिर से सभी अधिकारियों से प्रवासी मजदूरों के पैदल चलने पर रोक लगाने को कहा है। वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को जारी आदेश में स्पष्ट तौर पर सीएम योगी ने कहा कि किसी भी प्रवासी नागरिकों को पैदल, अवैध या असुरक्षित गाड़ियों से यात्रा ना करने दी जाए।

 

प्रवासियों के लिए हर बॉर्डर पर 200 बसें व्यवस्थित

उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि सीएम योगी ने औरैया सड़क हादसे पर संवेदना व्यक्त करते हुए सभी वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिया है कि किसी भी प्रवासी नागरिक को पैदल, अवैध या असुरक्षित वाहनों से यात्रा ना करने दी जाए। उन्होंने कहा कि प्रवासियों के लिए हर बॉर्डर पर 200 बसें बॉर्डर के जिलों में व्यवस्थित की गई हैं। अब तक यूपी में 449 ट्रेनें आ चुकी हैं। यह पूरे देश में सबसे अधिक संख्या है। इन ट्रेनों से 5 लाख 64 हजार लोग यात्रा कर चुके हैं। शनिवार को ही 75 ट्रेनें आएंगी, 286 और ट्रेनों के संचालन को सहमति दी गई है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है