Covid-19 Update

2,06,161
मामले (हिमाचल)
2,01,388
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,695,958
मामले (भारत)
199,022,838
मामले (दुनिया)
×

ज्ञान का द्योतक गुरु रत्न पुखराज

ज्ञान का द्योतक गुरु रत्न पुखराज

- Advertisement -

पुखराज का रंग पीले फूल जैसा होता है। यह गुरु ग्रह से संबंधित तथा धनु व मीन राशि का प्रतिनिधित्व करता है। जिनकी कुंडली में गुरु कमजोर है या अशुभ है, उन्हें इसके पहनने से शुभत्व की प्राप्ति होती है। यह ज्ञान का भी द्योतक है। उत्तम जाति का पुखराज वह होता है जो चिकना और तेजयुक्त हो। सफेद रंग का पुखराज भी भारत में पाया जाता है और इतना खूबसूरत होता है कि इसे देखते ही हीरे का भ्रम होता है तब इन दोनों के अंतर से इन्हें पहचाना जाता है क्योंकि पुखराज हीरे से कम कठोर होता है। पुखराज की चमक में विद्युतमयता होती है। अगर इसे ऊनी कपड़े पर घिसें तो रात में विद्युत रश्मियां दिखाई देती हैं। जो किसी भी कारणवश पुखराज खरीदने में असमर्थ हों उन्हें पुखराज का उपरत्न पहनना चाहिए।

पुखराज के मुख्य पांच उपरत्न हैं :

  • केतु- यह चीन वर्मा आदि देशों में पाया जाता है। इसके टूटने पर कपूर जैसी सुगंध निकलती है।
  • घीया-यह हल्के रंग का होता है और ज्यादातर ईरान में पाया जाता है। यह वजन में हल्का होता है।
  • केसरी- इसका रंग केसर के समान होता है। यह रत्न गंडक नदी के आस-पास आसानी से प्राप्त हो जाता है। यह वजन में भारी तथा हल्की चमक वाला होता है।
  • सोनल-इसमें सफेद और पीली किरणें दिखाई देती हैं। यह ज्यादातर श्रीलंका या काबुल में पाया जाता है।
  • सोनेला – यह चमकदार चिकना तथा सफेद रंग का होता है और ज्यादातर हिमालय में पाया जाता है।
    इसे दाएं या बाएं हाथ की तर्जनी अर्थात अंगूठे के साथ वाली अंगुली में सोने में जड़वा कर, गुरुवार की सुबह अभिमंत्रित करवा के ही धारण करना चाहिए।

पुखराज चमकदार, हल्के पीले रंग में बिना किसी दाग धब्बे, जाले, या धुंधलेपन का होना चाहिए। इसकी कीमत रंग, गुणवत्ता, पारदर्शिता तथा वजन पर निर्भर करती है। तीस वर्ष से कम लोगों को 3 से 5 रत्ती, इससे बड़ों को 5 से 7 रत्ती तक ठीक रहता है। इससे बड़ा डालने पर हर्ज नहीं है। इस रत्न की इसकी प्राण प्रतिष्ठा करवा कर ही इसे धारण करना चाहिए। पहनने के लिए दाहिने हाथ का ही उपयोग करें।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है