×

BJP का आरोपः कांग्रेसराज नहीं माफिया राज, लकवाग्रस्त हो चुका कानून व्यवस्था

BJP का आरोपः कांग्रेसराज नहीं माफिया राज, लकवाग्रस्त हो चुका कानून व्यवस्था

- Advertisement -

शिमला। कांग्रेसराज के चार वर्षों में माफिया राज अपनी चरम पर पहुंच चुका है। सत्ताधारियों और माफियाओं के गठबंधन के चलते प्रदेशभर में कानून व्यवस्था को लकवा मार चुका है। बीजेपी के पास पुख्ता सूचना है कि माफियाओं के दबाव व प्रदेश सरकार के निजी हितों के चलते शिमला में हुए अवैध कटान के मामले को दबाने की कोशिशें की जा रही हैं। चार वर्षों का शासनकाल प्रदेश के इतिहास में काले अध्याय के रूप में जाना जाएगा। सरकार की नाकाबलियत से अपराधिक व असमाजिक तत्वों को बढ़ावा मिले, परन्तु सरकार के शह पर अपराधिक व असामाजिक तत्व संगठित होकर कार्य कर रहे हैं, यह निश्चितरूप से चिंता का विषय है।


  • बीजेपी नेताओं ने प्रदेश सरकार पर साधा निशाना
  • बोले,  अवैध कटान के मामले को दबाने की कोशिशें 

यह बात बीजेपी प्रदेश उपाध्यक्ष एवं विधायक सरवीण चौधरी, विधायक व प्रदेश सचिव हंसराज, विधायक विनोद चौहान व सुरेश कश्यप ने कही। उन्होंने कहा कि चाहे शिमला हो या चंबा प्रदेशभर में अवैध कटान के सैकड़ों मामले सामने आए हैं, परन्तु अभी तक एक भी अपराधी को सलाखों के पीछे पहुंचाने में सरकार नाकाम साबित हुई है। इसी के साथआईएस जैसे आतंकी संगठनों के आतंकियों की आहट भी अब प्रदेश में सुनाई दे रही है। महिलाओं और बच्चों के प्रति हुई अपराधों में अभूतपूर्व बढ़ोतरी से प्रदेश में इन वर्गों में असुरक्षा का माहौल है। प्रदेश सरकार इसे ठीक करने के बजाए पुलिस का दुरुपयोग राजनीतिक विरोधियों को फंसाने में ही करती रही। बीजेपी नेताओं ने कहा कि प्रदेश सरकार केन्द्र की योजनाओं को प्रदेश में जानबूझकर केवल इसलिए लागू नहीं कर रही है कि कहीं श्रेय बीजेपी या प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को न मिल जाए। प्रधानमंत्री सिंचाई योजना में पिछले वर्ष 30 हजार करोड़ रुपये और वर्तमान वित्तीय वर्ष में 40 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। परन्तु प्रदेश सरकार इस योजना का फायदा प्रदेश के किसानों व बागवानों को दिलवाने में असफल सबित हुई है। इसी के साथ फसल बीमा योजना को भी सही ढंग से कार्यान्वित नहीं किया जा रहा है। केन्द्र सरकार से कौशल विकास योजना को प्रदेश स्तर पर आधे अधूरे ढंग से लागू किया जा रहा है, जिससे युवाओं को कोई फायदा नहीं मिल पा रहा है। 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है