Covid-19 Update

2,18,202
मामले (हिमाचल)
2,12,736
मरीज ठीक हुए
3,650
मौत
33,650,778
मामले (भारत)
232,110,407
मामले (दुनिया)

Nitish ने बेटे की तरह रखा लेकिन अब पूरे Bihar में एक कैंपेन चलाएंगे PK

Nitish ने बेटे की तरह रखा लेकिन अब पूरे Bihar में एक कैंपेन चलाएंगे PK

- Advertisement -

पटना। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishore) ने कहा है कि सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने उन्हें बेटे की तरह रखा, फिर पार्टी से निकाल दिया, लेकिन मैं आज भी उनका सम्मान करता हूं। पत्रकारों से बातचीत में पीके (PK) ने कहा कि उनके लिए हमेशा मेरे दिल में आदर रहेगा, हम लोगों में दो वजहों से मतभेद थे, लोकसभा चुनाव से ही हमारी इन वजहों को लेकर बातचीत चल रही थी।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि नीतीश राज में खूब विकास हुआ, लेकिन इस विकास के गति और आयाम नहीं रहे। प्रशांत किशोर ने कहा कि 15 साल में बिहार में खूब विकास हुआ है, लेकिन इससे विकास की स्थिति में व्यापक बदलाव नहीं हुए। उन्होंने कहा कि 2005 में विकास के मानकों पर बिहार की स्थिति जो थी आज भी बनी हुई है। शिक्षा के क्षेत्र में काम हुआ, लेकिन वे प्रदेश के बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं दे पाए।

प्रशांत किशोर ने कहा कि गांधी और गोडसे एक साथ नहीं चल सकते हैं। उन्होंने विकास के मानकों शिक्षा, स्वास्थ्य, जीवन प्रत्याशा पर बिहार की तुलना देश के दूसरे राज्यों से की है और कहा है कि इसके कोई शक नहीं है कि नीतीश कुमार ने बिहार में काम किया है लेकिन बावजूद इसके बिहार की स्थिति आज भी 2005 जैसी क्यों बनी हुई है? प्रशांत किशोर ने कहा कि बिहार में हर घर में बिजली पहुंची है, लेकिन बिजली खपत में बिहार देश का सबसे पिछड़ा राज्य है। उन्होंने कहा कि देश के लोग 900 केवी बिजली खपत करते हैं लेकिन बिहार में ये आंकड़ा 200 के आसपास है। उन्होंने कहा कि मैं बिहार में नई पार्टी बनाने नहीं आया हूं, बल्कि पूरे बिहार में एक कैंपेन (Campaign in Bihar) चलाऊंगा। बात बिहार की नाम से शुरू होने वाले इस कैंपेन के जरिए अगले 100 दिनों तक मैं बिहार भ्रमण करूंगा। बिहार एक सशक्त नेता चाहता है, जो बिहार की बात कहने के लिए किसी का पिछलग्गू ना बने, उन्होंने कहा कि 20 फरवरी से इस अभियान की शुरुआत होगी।

 

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी Youtube Channel 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है