Covid-19 Update

2,00,603
मामले (हिमाचल)
1,94,739
मरीज ठीक हुए
3,432
मौत
29,944,783
मामले (भारत)
179,349,385
मामले (दुनिया)
×

सावन का पहला सोमवार : kashi-Ujjain में उमड़े श्रद्धालु, CM Yogi ने गोरखपुर में किया भोले का दुग्धाभिषेक

सावन का पहला सोमवार : kashi-Ujjain में उमड़े श्रद्धालु, CM Yogi ने गोरखपुर में किया भोले का दुग्धाभिषेक

- Advertisement -

नई दिल्ली। आज सावन का पहला सोमवार है और कोरोना संकट के बीच देशभर के शिवालयों के बाहर भोलेनाथ के भक्तों की भीड़ उमड़ रही है। हालांकि इस बार माहौल हर बार जैसा तो नहीं है फिर भी सावन में भगवान शिव (Lord Shiva) को मनाने के लिए उनके भक्त मंदिर पहुंच रहे हैं। कोरोना की वजह से मंदिरों में कई उपाय किए गए है। लोगों को मंदिर के गर्भ गृह में आने की अनुमति नहीं है। कई मंदिरों के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लाइनें लगी हैं। भगवान शिव का जलाभिषेक किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने भी गोरखपुर में भगवान शिव की पूजा की। सीएम योगी तड़के गोरखपुर स्थित मानसरोवर मंदिर पहुंचे और भोलेनाथ का दुग्धाभिषेक किया। इस मौके पर योगी आदित्यनाथ मास्क पहने नजर आए।

 


 

भोलेनाथ की नगरी वाराणसी से लेकर उज्जैन में महाकाल और दिल्ली के मंदिरों में भी भक्त सुबह-सुबह भगवान शिव के जलाभिषेक के लिए पहुंचे। उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में सावन के पहले दिन विधिवत पूजा-अर्चना की गई। सुबह से श्रद्धालुओं की भीड़ इकट्ठा हो गई थी। भगवान शिव का श्रृंगार किया गया। सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) का ख्याल रखते हुए श्रद्धालु भगवान शिव का जलाभिषेक कर रहे हैं। वहीं, भगवान भोले की नगर वाराणसी के काशी विश्वनाथ मंदिर के बाहर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देखी गई। सुबह से ही श्रद्धालु भगवान शिव के जलाभिषेक के लिए लाइन में लगे रहे। मंदिर प्रबंधन की ओर से खास इंतजाम भी किए गए हैं। स्थानीय प्रशासन ने बैरिकेडिंग लगाई है, ताकि कोरोना गाइडलाइन (Corona Guideline) का उल्लंघन ना हो। दिल्ली के सभी शिवालयों में भी सुबह से ही श्रद्धालुओं की भीड़ जुटने लगी थी। चांदनी चौक स्थित गौरी शंकर मंदिर में श्रद्धालु भगवान शिव की उपासना के लिए इकट्ठा हुए। मंदिर में प्रवेश से पहले श्रद्धालुओं का टेम्प्रेचर चेक किया गया। इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखा गया।

 

ये भी पढ़ें – सावन में भोलेनाथ को बेलपत्र से करें प्रसन्न, जानिए इसका महत्व

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है