Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

हैवानियत: पटाखों से भरा अनानास खिलाए जाने के बाद Kerala में Pregnant हथिनी की मौत

हैवानियत: पटाखों से भरा अनानास खिलाए जाने के बाद Kerala में Pregnant हथिनी की मौत

- Advertisement -

तिरुवनंतपुरम। केरल (Kerala) से एक अमानवीय और दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां एक 15 वर्षीय प्रेग्नेंट हथिनी (Pregnant elephant) की बीते 27 मई को मौत हो गई जिसे कुछ बदमाशों ने पटाखों से भरा अनानास खिला दिया जिसका इस्तेमाल जंगली सूअरों को पकड़ने के लिए किया गया था। हथिनी के मुंह में पटाखे से भरा अनानास फट (Blast) गया। उसके सारे मसूड़े बुरी तरह फट गए और वह खा भी नहीं पा रही थी। आखिरकार हथिनी की मौत मलप्पुरम की वेलियार नदी में खड़े-खड़े ही हो गई। दरअसल, यह हथिनी मूलत: पलक्कड़ स्थित साइलेंट वैली नैशनल पार्क की थी।

यह भी पढ़ें: PM Modi ने आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए दिया पांच ‘I’ का फॉर्मूला

पटाखे इतने असरदार थे, कि उसका मुंह और जीभ बुरी तरह जख्मी हो गए

यह दर्दनाक घटना वन विभाग के एक अधिकारी ने तस्वीरें सोशल मीडिया में पोस्ट कीं। कुछ ही देर में सोशल मीडिया में ये तस्वीरें वायरल हुईं और लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। रेस्क्यू टीम में शामिल मोहन कृष्णन ने फेसबुक पर लिखा, मादा हाथी खाने की तलाश में जंगल से पास के गांव में पहुंच गई थी। यहां वह इधर उधर घूम रही थी। इसके बाद उसे कुछ लोगों ने पटाखे भरे अनानास खिला दिए। मोहन कृष्णन आगे लिखा, पटाखे इतने असरदार थे, कि उसका मुंह और जीभ बुरी तरह से जख्मी हो गए।


यह भी पढ़ें: सितंबर माह से एलियन लाइफ की खोज शुरू करेगा China; लेगा इस बड़े Telescope की मदद

हाथी ने घायल होने के बावजूद किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया

वह खाने की तलाश में पूरे गांव में भटकती रही। दर्द के चलते वह कुछ खा भी नहीं सकी। मादा हाथी ने घायल होने के बावजूद किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया, किसी पर हमला भी नहीं किया। वह बहुत सीधी और शांत थी। कृष्णन ने आगे लिखा, मादा हाथी खाने की खोज में वेल्लियार नदी तक पहुंच गई क्योंकि उसके पेट में बच्चा था। वो पानी में खड़ी हो गई। पानी में मुंह डालने से उसे थोड़ा आराम भी मिला। जब हाथी की दयनीय स्थिति फॉरेस्ट अफसरों को पता चली, तो वे दो कुमकी हाथियों, सुरेंद्रन और नीलाकंतन को घायल हाथी को वलियार नदी से बाहर निकालने के लिए ले आए।बड़ी मुश्किल के बाद पानी से बाहर निकाला गया, लेकिन उसकी मौत हो गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है