- Advertisement -

गर्भवती महिलाओं की ADM से फरियाद, साहब..आखिर हमें कब मिलेंगे Kullu अस्पताल में Doctor

महिलाओं ने एडीएम अक्षय सूद को सौंपा ज्ञापन, खाली पदों को भरने की मांग

0

- Advertisement -

कुल्लू। एक तरफ तो सरकार गर्भवती महिलाओं को बेहतर सुविधाएं देने का दावा करती है। वहीं, कुछ जगह ऐसी भी हैं, जहां गर्भवती महिलाओं को डाक्टरी सुविधा ही नहीं मिल पा रही है। ऐसा ही एक मामला कुल्लू से सामने आया है। जहां पर गर्भवती महिलाएं कुल्लू अस्पताल में डाक्टर के न मिलने की समस्या से परेशान हैं। महिलाओं ने एडीएम अक्षय सूद से मुलाकात कर उन्हें अपना दुखड़ा सुनाया। महिलाओं ने एडीएम से कहा कि साहब!  हम पिछले एक सप्ताह से कुल्लू अस्पताल आ रही हैं, लेकिन हमें अभी तक डॉक्टर नहीं मिल पाया है।

कई बार तो पहले पर्ची बनाने में ही काउंटर पर 2 घंटे लग जाते हैं और जैसे ही हम डॉक्टर के कमरे में पहुंचते हैं तो डॉक्टर वहां से निकल गए होते हैं। कुल्लू में एडीएम अक्षय सूद को अपना दुखड़ा सुनाने पहुंची गर्भवती महिलाओं ने बेहतर स्वास्थ्य सुविधा न मिलने पर अपना रोष व्यक्त किया। एडीएम कुल्लू अक्षय को अपना दुखड़ा सुनाने पहुंची

गर्भवती महिलाएं सुषमा, कली देवी, किरणा, मंजीत, बोदी देवी, हेमा देवी व गीता देवी ने बताया कि वो पिछले कई दिनों से स्त्री रोग विशेषज्ञ से मिलने के लिए कुल्लू अस्पताल पहुंच रही हैं, लेकिन उन्हें अभी तक स्वास्थ्य सुविधा नहीं मिल पा रही है। उन्होंने कहा कि वो आर्थिक रूप से भी इतने संपन्न नहीं हैं कि अपना इलाज निजी अस्पताल में करवा सकें। महिलाओं का कहना है कि अस्पताल प्रबंधन निजी क्षेत्र से कुल्लू अस्पताल में डॉक्टर बुलाने की बात तो करता है, लेकिन जब भी वो डॉक्टर के कमरे में पहुंचती हैं तो उन्हें आज तक वहां डॉक्टर नहीं मिल पाया हैऐसे में अगर जल्द उन्हें स्वास्थ्य सुविधा ना मिली तो वो कैसे अपना इलाज करवा पाएंगी।

महिलाओं ने कहा कि वो पिछले 7 दिनों से कुल्लू में डेरा डाले हुए है कि उन्हें डॉक्टर मिल जाएगा, लेकिन अब उन्हें एक बार फिर से खाली हाथ अपने घरों की ओर लौटना पड़ रहा है। खाली हाथ लौटने से एक ओर जहां उन्हें आर्थिक रूप से नुकसान उठाना पड़ रहा है। वहीं, उनके रोजमर्रा के कार्य भी उससे प्रभावित हो रहे हैं। उन्होंने जिला प्रशासन व प्रदेश सरकार से मांग रखी कि जल्द कुल्लू अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ की तैनाती की जाए, ताकि महिलाओं को इलाज करवाने में समस्या का सामना ना करना पड़े।

- Advertisement -

Leave A Reply