Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,156,748
मामले (भारत)
115,765,405
मामले (दुनिया)

Dhumal @ हर मामले में CBI जांच की मांग हो तो सरकार के रहने का अधिकार नहीं

Dhumal @ हर मामले में CBI जांच की मांग हो तो सरकार के रहने का अधिकार नहीं

- Advertisement -

लोकिन्दर बेक्टा/शिमला। नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल ने कहा है कि राज्य में जब से कांग्रेस सत्तासीन हुई है, कानून व्यवस्था बद से बदतर हो गई है। उन्होंने कहा कि राज्य में समाज विरोधी तत्वों का बोलबाला है। ऐसे तत्वों में कोई भय नहीं है और इसका नवीनतम उदाहरण कोटखाई की घटना का है। उन्होंने कहा कि कोटखाई की गुड़िया के मामले की जांच सीबीआई से करवाने की सरकार की घोषणा का वे स्वागत करते हैं। धूमल ने कहा कि राज्य में वन माफिया वन काट गया, खनन माफिया रेत बजरी का अवैध व्यापार कर गया।

मौत के सौदागर जान-माल के साथ इज्जत भी ले गए। ऐसे में सारे स्टेट की हर घटना की जांच यदि सीबीआई को ही करनी है तो राज्य में सरकार को रहने का अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि वे सीएम द्वारा कोटखाई के मामले की सीबीआई जांच करवाने का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि जहां स्थानीय प्रशासन, राज्य प्रशासन और पुलिस दबाव में कार्य कर रही है, वहां क्या हो सकता है, इसे खुद समझा जा सकता है।

दबाव में सीएम को मामले की जांच सीबीआई से करवानी पड़ी

धूमल ने यहां प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि पहले गुड़िया का शव नहीं मिलता है और जब शव मिलता है तो उसकी जांच को लटकाया जाता है। उन्होंने कहा कि गुड़िया के माता पिता ने भी इस मामले ती सीबीआई से जांच करवाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि वे भी इस मांग का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में नेपाल और घड़वाल के लोगों के नाम आए हैं। नेपाल के लोगों के बारे में सब जानते हैं कि वे अपराध करते हैं तो तुरंत ही फरार हो जाते हैं। अनेकों ऐसे मामले हैं और छबील दास मर्डर केस का मामला सामने है और कुल्लू मंदिर चोरी का मामला है। ऐसे में हत्यारे यहां पर तो घूमेंगे नहीं। उनका कहना था कि लोग इस बात पर विश्वास नहीं कर रहे हैं और सबने शंका जाहिर की है। उन्होंने कहा कि लोगों के दबाव में सीएम को इस मामले की जांच सीबीआई से करवाने को कहना पड़ा है।

प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहद खराब

धूमल ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहद खराब है और यह देवभूमि से ड्रग्स की भूमि बनी और अब अपराध की भूमि बन रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कई ऐसे मामले हुए हैं। कुल्लू में 8 वर्ष की बच्ची की रेप के बाद हत्या होती है। वन रक्षक होशियार का मामला सामने है।  कहा जा रहा है कि इसने जहर खाकर आत्महत्या की। वह जहर खाकर पेड़ पर चढ़ गया। इसके लिए भी सीबीआई जांच की मांग हो रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में कई ऐसी घटनाएं घटी हैं। चाहे वह बारूद पकड़े जाने की हो या फिर हथियार पकड़ने जाने की हो। इसके अलावा सुबाथू में आतंकियों के पोस्टर लगे है और बंजार में आईएसआईएस का आतंकी पकड़ा गया।

गुड़िया मर्डर केस की होगी CBI जांच, सरकार ने की सिफारिश

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है