Covid-19 Update

2,00,043
मामले (हिमाचल)
1,93,428
मरीज ठीक हुए
3,413
मौत
29,821,028
मामले (भारत)
178,386,378
मामले (दुनिया)
×

Dhumal का तंज, कांग्रेस सरकार का मिशन Repeat का दावा मात्र गलतफहमी

Dhumal का तंज, कांग्रेस सरकार का मिशन Repeat का दावा मात्र गलतफहमी

- Advertisement -

शिमला। वर्तमान सरकार में सबसे अधिक अन्याय युवाओं के साथ हुआ है। बेरोजगारी भत्ते के नाम पर 5 वर्ष तक युवाओं को छलते रहे और सरकारी नौकरियां देने के दौरान भाई-भतीजावाद, भ्रष्टाचार और पैसे के लेन-देन के गंभीर आरोप सरकार पर लगे हैं। यह पहली बार है कि पारदर्शिता को ताक पर रखकर संदेहास्पद तरीके अपनाकर और नियमों को तोड़-मरोड़ कर चहेतों को फायदा दिलाने की कोशिशों को अंजाम दिया गया, जिसके चलते न केवल बेरोजगार युवाओं में रोष है, बल्कि हिमाचल की ईमानदार सरकार होने की छवि को भी जबरदस्त झटका पहुंचा है। यह आरोप पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल ने लगाए हैं। उन्होंने कहा कि फोरेस्ट गार्ड की भर्ती से लेकर सहकारी बैंकों में भर्ती सहित एक भी ऐसी भर्ती प्रदेश में नहीं हुई है, जिसके दौरान सरकार पर अंगुलियां न उठी हों। उसके बावजूद कांग्रेस सरकार का मिशन रिपीट का दावा करना सिर्फ उनकी गलतफहमी है। 

कांग्रेस सरकार के कुशासन की वजह से फिसड्डी राज्यों की श्रेणी में हिमाचल

पूर्व सीएम व नेता प्रतिपक्ष प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने पिछले पांच वर्षों में प्रदेश को विकास की दौड़ में 10 वर्ष पीछे धकेल दिया है। हिमाचल प्रदेश 5 वर्ष पूर्व विकास के सभी मानकों में देशभर में सर्वोच्च स्थान पर था, परन्तु आज हिमाचल प्रदेश कांग्रेस सरकार के कुशासन की वजह से फिसड्डी राज्यों की श्रेणी में आ गया है। यह शर्मनाक है कि कभी औद्योगिक विकास के मामले में सर्वोच्च स्थान पर रहने वाला प्रदेश आज 17वें स्थान पर है और प्रदेश की पहचान अब कानून व्यवस्था के मामले में सर्वाधिक खराब स्थिति वाले राज्यों में से एक की बन गई है। धूमल ने कहा कि कांग्रेस सरकार की सबसे बड़ी असफलता उसके द्वारा किए गए वादों को पूरा न किया जाना है। कांग्रेस सरकार अपने 5 वर्षों के शासनकाल में अपने घोषणा पत्र में किए गए वादों में से 30 प्रतिशत भी पूरा नहीं कर पाई है। अभी भी 70 प्रतिशत वादे पूरा होने के इंतजार में है। किसान, बागवान, कर्मचारी, छात्रों और महिलाओं सहित ऐसा कोई भी वर्ग नहीं है जो 5 वर्षों के कांग्रेस सरकार के कार्यकाल के पश्चात स्वयं को ठगा हुआ महसूस न कर रहा हो।


आम जनता की नजरों से भी गिरी सरकार 

धूमल ने कहा कि सरकार ने 5 वर्षों के दौरान न केवल अपनी विश्वसनीयता खोई है बल्कि आम जनता की नजरों से भी सरकार गिरी है। सड़क, शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार सहित लगभग सभी मुद्दों पर सरकार की असफलता ने हिमाचल प्रदेश को विकास की दौड़ में पीछे धकेल दिया है। पर्यटन और बागवानी जो हिमाचल प्रदेश के विकास के लिए सर्वाधिक महत्वपूर्ण सेक्टर हैं उसकी उपेक्षा इस दौरान सर्वाधिक हुई है, जिसके चलते हिमाचल प्रदेश की जीडीपी कम हुई। इसी के साथ सरकार के द्वारा किए गए अंधाधुंध खर्चों ने प्रदेश की आर्थिकी की कमर तोड़ दी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है